चंदौली। यूपी में बदमशों के एनकाउंट का दौर जारी है। इस बार निशाना बना है वाराणसी का शातिर बदमाश वीरेंद्र देनवंशी। 25 हजार के इनामी बदमाश को मार चंदौली पुलिस ने मंगलवार को मुठभेड़ में मार गिराया। इस दौरान क्राइम ब्रांच का एक कांस्टेबल भी जख्मी हो गया। उसका इलाज चल रहा है। मारा गया बदमाश वीरेंद्र देनवंशी कई मामलों में वांछित था।

पुलिस के लिए बन गया था परेशानी का सबब

अलीनगर थाना अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या दो पर लौंदा गांव के पास मंगलवार को दोपहर में पुलिस मुठभेड़ में बदमाश विरेन्द्र वेनवंशी (25) ढेर हो गया, जबकि उसके एक साथी राजकमल राजभर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान तीन अन्य बदमाश भाग निकले।
एसपी के अनुसार मारे गए बदमाश पर सहारनपुर में 25 हजार और जनपद में एक लूट के मामले में 25 हजार रुपये का इनाम घोषित था।  बताया जा रहा है किमंगलवार दोपहर क्राइम ब्रांच की टीम मुगलसराय कोतवाली से एक घटना का खुलासा कर जिला मुख्यालय लौट रही थी। इसी दौरान लौंदा गांव के पास टीम के लोगपहुंचे थे कि दो बाइक पर पांच लोग एक साथ चलते दिखे। बिना नंबर की बाइक देख क्राइम ब्रांच की टीम ने बाइक सवारों को ओवरटेक किया। बदमाशों ने क्राइमब्रांच की टीम को पहचान लिया।

571

पूर्वांचल के कई जिलों में था खौफ

एक बाइक पर सवार दो युवक पल्सर रोड पर खड़ी कर खेत की ओर भाग निकले। वहीं दूसरी बाइक पर सवार तीन भाग निकले। खेतों की ओर भाग रहे युवकों का पुलिस ने पीछा किया तो एक ने पुलिस पर फायर झोंक दिया। गोली बदमाशों के पीछे भाग रहे कांस्टेबल बृजेश कुमार के बाएं हाथ में लगते हुए सीने में जा लगी।बदमाशों की गोली से सिपाही के घायल होने के बाद पुलिस ने आत्मरक्षार्थ गोली चलाई। इससे एक बदमाश गिरकर घायल हो गया। पुलिस घायल को इलाज के लिए जिला अस्पताल ले आई जहां चिकित्सा के दौरान उसकी मौत हो गई।

मुठभेड़ की सूचना के बाद अलीनगर और मुगलसराय पुलिस भी लौंदा पहुंच गई और घेरे बंदी कर दी। सर्च आपरेशन में दूसरा युवक भी पकड़ा गया। पकड़े गए युवकने अपना नाम कमल राजभर बताया। कमल ने मृत बदमाश की पहचान विरेन्द्र वेनवंशी के रूप में की।

admin

No Comments

Leave a Comment