जिसे कोख में नौ माह रख पाला उसी का गला पहसुल से काटकर मौत के घाट उतारा

बलिया। संसार टोला (जयप्रकाश नगर) गांव (बैरिया) में बुधवार की सुबह चिंता देवी ने अपनी पुत्री प्रिया (15) का गला पहसुल से रेत दिया। कुल्हाड़ी से गला काट कर हत्या कर दी। पिता राजभूषण घटना के समय नहीं थे और लौटने पर खून से लथपथ बेटी को फर्श पर छटपटाते देख अपनी पत्नी से पूछा कि इसकी गर्दन किसने काटा है तो चिंता देवी ने बताया कि मैंने इसकी गर्दन पहसुल से काटी है। राजभूषण यादव ने आस-पास के लोगों के सहयोग से बेटी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने प्रिया को मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पर सोनबरसा अस्पताल में पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के बाद हत्यारी मां को गिरफ्तार कर लिया है।

कुछ यूं रहा घटनाक्रम

राजभूषण यादव ट्रैक्टर की ट्राली बनाने का अपना गैराज खोले है। इसी से परिवार का भरण पोषण करते हंै। परिवार के समक्ष कोई आर्थिक परेशानी नहीं है। बुधवार की सुबह राजभूषण घर से संसार टोला चट्टी पर चाय पीने गये थे। वापस आये तो उनकी बेटी प्रिया खून से लथपथ छटपटा रही थी। हत्यारी मां के संबंध में प्रिया के पिता ने बताया कि वह 8 साल से विक्षिप्त थी। इलाज आरा के एक मनोचिकित्सक के यहां चल रहा था। हत्या का कारण मानसिक विक्षिप्तता है या कुछ और यह तो जांच के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा। मां द्वारा अपने बेटी की हत्या किया जाना क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

नवीं कक्षा की मेधावी छात्रा थी प्रिया

प्रिया राजकीय बालिका इंटर कॉलेज जयप्रकाश नगर में कक्षा 9 की छात्रा है। पड़ोसियों की माने तो प्रिया पढ़ने में बहुत तेज थी। वह सहज स्वभाव की थी। उसे पढ़ाई के अलावा बाहर की दुनिया से कोई मतलब नहीं था। इस बाबत सीओ बैरिया का कार्यभार देख रहे एएसपी उमेश कुमार ने बताया कि मामले की जांच चल रही है। प्रथम दृष्टया हत्या का मामला प्रतीत होता है। शेष जांच से स्पष्ट होगा। कोतवाल अनिल चन्द्र तिवारी ने बताया कि मृतका की मां को हिरासत में लिया गया है।

Related posts