जहां गठबंधन प्रत्याशी ‘दमदार’ वहां वोटिंग के बाद भाजपाइयों से निकाल रहे ‘खार’, आजमगढ़ और भदोही में जमकर पिटाई

वाराणसी। लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान रविवार को होना है। परिणाम इसके चार दिन बाद आने हैं। बावजूद इसके चुनावों को लेकर मारपीट का सिलसिला आरम्भ हो चुका है। खास कर उन क्षेत्रों में जहां गठबंधन के प्रत्याशी ‘दमदार’ रहे हैं। ताजा मामला सपा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चुनाव क्षेत्र आजमगढ़ और भदोही से चुनाव लड़ने वाले रंगनाथ मिश्र का है। यहां गठबंधन के समर्थकों ने भाजपाइयों की न सिर्फ जमकर पिटाई की बल्कि खून से लथपथ कर जान से मारने की धमकियां तक दी। घटनाक्रम की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने रपट तो दर्ज कर ली है लेकिन कार्रवाई के नाम पर खासा शून्य है।

निरहुआ के बूथ एजेंट पर जानलेवा हमला

प्रकरण मुबारकपुर थाना क्षेत्र के नेवादा सोफीपुर गांव का है जहां के रहने वाले विशाल माली को भाजपा प्रत्याशी दिनेशलाल यादव निरहुआ ने अपना बूथ एजेन्ट बनाया था। चुनाव के दौरान फर्जी वोटिंग का विरोध करने पर गांव के ही कुछ दबंगो से उसका विवाद हो गया था। उस समय तो दबंग धमकी देकर चले गये थे लेकिन शनिवार को दबंगो ने उसकी जमकर बुरी तरह पिटाई कर दी। लाठी-डंडों से की गयी बुरी तरह पिटाई से विशाल गम्भीर रूप से घायल हो गया। घायलावस्था में उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत गम्भीर बनी हुई है। परिजनों का आरोप है कि चुनाव के दिन दबंगो द्वारा धमकी दी गयी थी और आज इसी के चलते उसकी पिटाई कर दी गयी जिससे उसकी हालत गम्भीर बनी हुई है। वही इस मामले में एसपी सीटी कमलेश बहादुर का कहना है कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लियागया है और कार्रवाई की जा रही है।

बसपा प्रत्याशी के समर्थकों ने किया भाजपा बूथ अध्यक्ष पर हमला

कुछ ऐसा ही मामला भदोही का है जहां भाजपा के बूथ एजेंट के संग उसके भाई पर जानलेवा हमला किया गया। गंभीर रूप से घायल विनय मिश्रा उर्फ सोनू ने पुलिस को दी गयी तहरीर में आरोप लगाया है कि लोकसभा चुनाव के रंजिश में मुझे और मेरे भाई शुभम मिश्रा को सहसेपुर चट्टी पर पांच-छह लोगों ने मिलकर लाठी डंडो से पीटते हुए चाकू से हमला कर दिया जिससे दोनों भाइयों को सिर और अन्य जगहों पर गम्भीर चोट आई है। आरोप यह भी है कि चुनाव के कुछ दिन पहले उनके भाई शुभम के मोबाइल पर गणेश मिश्रा ने धमकी दी थी कि रंगनाथ मिश्रा का सपोर्ट नही करोगे तो जान से मार दूंगा। उन्होंने गणेश मिश्रा सहित पांच लोगों के खिलाफ औराई कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने दोनों घायलों को मेडिकल के लिए भेज पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

Related posts