आजमगढ़। प्रदेश सरकार चाहे लाख दावे करें लेकिन कानून व्यवस्था किस हद तक सुधरी है इसका नमूना जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र में देखने को मिला। यहां मामूली विवाद के बाद दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। लाठी डंडे चले फायरिंग हुई और कार को आग के हवाले कर दिया गया। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर 15 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है। घटना को लेकर गांव में तनाव है और लोग सहमे हुए हैं। इसके अलावा सभी आरोपी पुलिस पकड़ से दूर है। यह दशा तब है जब आये दिन पुलिस किसी न किसी ईनामी को मुठभेड़ में पकड़ अपराध नियत्रित होने का दावा करती है।

मामूली विवाद के बाद खूनी संघर्ष

गौरतलब है कि दीघबनिया-मझोना गांव (जीयनपुर) में गांव के ही रहने वाले दो पक्षों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी। इसमें बच्चों से लेकर घर की औरतें और युवक एक-दूसरे को लाठी-डंडों से पीटने लगे। एक पक्ष युवक ने कट्टा निकालकर फायर कर दिया जिसकी गोली दूसरे पक्ष के युवक के सर को छूते निकल गई। इससे मामला बनने के बजाय और बिगड़ता गया और काफी देर तक हंगामा चलता रहा फायर करने वाले लोग इस बीच मौका पाकर भाग निकले लेकिन जिस गाड़ी से वह आए थे वह गाड़ी गांव में ही छूट गई जिसके बाद आक्रोशित लोगों ने गोली चलाने वालों की कार को आग के हवाले कर दिया

दोनों पक्ष मनबढ़, आये दिन करते मारपीट

इस बाबत सीओ सिटी अजय कुमार यादव ने बताया कि जिन लोगों के बीच या घटना हुई है वह दोनों ही पक्ष अपराधी हैं और आए दिन मारपीट करते रहते हैं। फिलहाल पुलिस ने मामले में एक गिरफ्तारी भी की है और मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्यवाही के लिए पूरा प्रयास कर रही है उन्होंने कहा की इस पूरे घटनाक्रम में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

admin

No Comments

Leave a Comment