वाराणसी। शहर में इन दिनों विकास कार्य जोरों पर चल रहे हैं। इसका एक पहलू यह भी है कि एक काम के बाद सड़क बनती है तो दूसरी के लिए खोदाई आरम्भ हो जाती है। इसके अलावा कई इलाकों में जाम का सबब यह काम बनते हैं। कार्यों की पुनरावृत्ति रोकने एवं विकास कार्य यातायात की राह में रोड़ा न बने इसके लिए वीडीए उपाध्यक्ष पुलकित खरे ने नयी पहल की है। इसके तहत अब से नगर निगम सीमा में कराये जा रहे समस्त कार्यो के संबंध में नगर निगम से कार्य की पुनरावृत्ति के संदर्भ में प्रमाण पत्र अनिवार्यत: प्राप्त करना होगा जिससे नगर निगम द्वारा कराए गए कार्यो की प्राधिकरण द्वारा पुनरावृत्ति न होने पाए। यही नहीं सुनिश्चित करना होगा कि शहर में कराये जा रहे कार्यो से यातायात व्यवस्था में किसी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न न हो। इसके लिए यातायात पुलिस तथा संबंधित विभाग को कार्य की समस्त सूचना प्रदान करने के संग अनापत्ति लेनी होगी।

531

नीलकंठ करेंगे पोर्टर का शुभारम्भ

गौरतलब है कि शासन के निर्देशों के तहत प्राधिकरण में मानचित्र स्वीकृति हेतु सिर्फ आॅनलाइन ही आवेदन पर स्वीकृत होगी। समस्त जरूरी दस्तावेज एवं मानचित्र स्वीकृति से संबन्धित प्रक्रिया पोर्टर के माध्यम से होगी। इसके लिए बुधवार को प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान आॅनलाइन व्यवस्था के संदर्भ में विभिन्न पहलुओं पर भी वृस्तृत चर्चा की गयी। इसके संग मौजूद वास्तुविदों के द्वारा कतिपय बिन्दुओं के बदलाव के संबंध में वीसी से अनुरोध किया जिस पर उन्होंने शासन को समस्त आग्रहों को अगली बैठक में शासन के समक्ष संदर्भित करने का आश्वासन दिया। पोर्टर का शुभारंभ शनिवार की सुबह 10 बजे राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी आयुक्त कार्यालय में करेंगे।

अवैध निर्माण के मामले में कार्रवाई की संस्तुति

वीसी ने एनएच 56 पर अवैध कालोनाइजर्स पर अंकुश लगाने की कार्यवाही में विफल हो जाने के कारण वीडीए के उक्त क्षेत्र में विगत एक साल में तैनात रहे 3 अवर अभियंता, 3 सहायक अभियंता तथा 3 जोनल अधिकारियों के विरुद्ध शासन को कठोर विभागीय कार्यवाही हेतु पत्र प्रेषित किया है। कार्रवाई से विभाग में खलबली मची है।

admin

No Comments

Leave a Comment