गोरखपुर  सीएम बनने के बाद शनिवार को पहली बार गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ अपनी कर्मभूमि और संसदीय क्षेत्र गोरखपुर में आए। जहां उनका भव्य स्वागत हुआ , लेकिन इसी बीच गोरखनाथ मंदिर के बाहर रविवार को सुबह करीब 10 बजे एक शख्‍स ने आत्‍मदाह की कोशिश की। जिससे वहां हड़कंप मच गया। हालांकि पुलिस ने उसे रोक लिया। जिस समय उसने आत्मदाह की कोशिश की उस वक्त सीएम योगी गोरखनाथ मंदिर में ही थे।

क्या है मामला ?
आत्मदाह का प्रयास करने वाले शख्स का नाम राजकुमार भारती है। वह यूपी के बलिया जिले का रहने वाला है। राजकुमार भारती ने बताया कि वो कर्ज में डूबा है। उसके ऊपर लगभग 2 लाख रुपए का कर्ज है। राजकुमार ने बताया कि उसने अपने इलाज के लिए गए कर्ज लिया था। जिसे वह साहूकार को लौटा नहीं पा रहा है। साहूकार उसे बार-बार परेशान कर रहा है। वह कर्ज चुकाने में सक्षम नहीं है और कर्ज माफ करवाना चाहता है।

सीएम से चाहता था मिलना

सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलकर राजकुमार अपनी समस्या रखना चाहता था। सुरक्षा कारणों और भीड़ की वजह से वह वहां तक नहीं पहुंच पाया। इसके बाद उसने आत्मदाह का प्रयास किया। यह देख वहां मौजूद लोगों और पुलिस के जवानों ने उसे पकड़ लिया।

क्या कहना है पुलिस का ?
गोरखनाथ थाने के एसओ राणा राजेश सिंह ने बताया कि राजकुमार भारती नाम के शख्स ने मंदिर परिसर के बाहर आत्मदाह करने का प्रयास किया। पुलिस ने उसकी कोशिश नाकाम कर दी। उसके खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर उसे जेल भेज दिया गया है।

 

admin

No Comments

Leave a Comment