वाराणसी। विधानसभा चुनाव को लेकर जिले में सियासी सरगर्मी बढ़ने लगी है। जिले में बीजेपी को हराने के लिए सपा-कांग्रेस गठबंधन ने तैयारियां तेज कर दी हैं। सेवापुरी के बरकी में राज्यमंत्री सुरेंद्र पटेल की अगुवाई में दोनों दलों की एक संयुक्त बैठक हुई, जिसमें कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। लगभग दो घंटे तक गठबंधन के नेता चुनावी मंथन में लगे रहे। माना जा रहा है कि बीजेपी को मात देने के लिए इस बैठक में कुछ खास प्लान बनाए गए हैं। हालांकि इस प्लान के बारे में दोनों ही नेताओं ने खुलासा नहीं किया।

 गठबंधन को मजबूत बनाने पर जोर

बैठक में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि राहुल और अखिलेश को जिस तरह से पूरे यूपी में समर्थन मिल रहा है उससे विरोधियों के होश उड़े हुए हैं। यूपी में एक बार अखिलेश की अगुवाई में सरकार बनने जा रही है। उन्होंने सपा नेताओं को आश्वस्त किया कि कांग्रेस हर मोड़ पर उनके साथ है। उन्होंने कहा कि बनारस की सभी आठों विधानसभा सीटों पर इस बार गठबंधन का कब्जा होगा। सपा के जिलाध्यक्ष डॉक्टर पियूष यादव ने कहा कि अगर कांग्रेस कार्यकर्ताओं और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने एकजुट होकर चुनाव मैदान में डटे रहे तो जिले की सभी सीटों पर गठबंधन का ही कब्जा होगा।

 अधूरे पड़े काम होंगे पूरे- सुरेंद्र पटेल

बैठक को संबोधित करते हुए सुरेंद्र पटेल ने कहा कि क्षेत्र में अधूरे पड़े कामों को पूरा करना उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी की सरकार ने जिस तरीके से बनारस के लोगों को छला है, इस चुनाव में यहां की जनता पूरा हिसाब करेगी। बैठक में रोहनिया के विधायक महेन्द्र पटेल, कन्हैया राजभर, कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा, शिवशंकर मौर्या, हर्षवर्धन सिंह, रामप्रकाश मास्टर, प्रीतम सिंह, देवेन्द्र सिंह,  के अलावा दोनों दलों के नेता मौजूद थे।

 

admin

No Comments

Leave a Comment