उन्नाव गैंगरेप मामले में चहेते विधायक को बचाने में जुटी है पूरी सरकार : अशोक सिंह

जौनपुर। बसपा के महाराष्ट्र प्रदेश प्रभारी एवं प्रमुख उद्योगपति अशोक सिंह ने कहा कि प्रदेश में कानून का राज समाप्त हो चुका है। आज जिस तरह से उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खा रही है और योगी सरकार न्याय देने की बजाय अपने चहेते विधायक को बचाने में जुटी है उससे यह बात साबित हो गयी कि भाजपा की कथनी और करनी में फर्क है। गुरुवार को मीडिया से बातचीत में अशोक सिंह ने आरोप लगाया कि यह सिर्फ जुमले की सरकार है। जिस तरह से उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के पिता की बर्बरतापूर्व पुलिस कस्टडी में हत्या की गयी उसकी हम कड़े शब्दों में निंदा करते है।

बाबा साहब के नाम पर कर रहे झूठी राजनीति

अशोक सिंह ने कहा कि भाजपाई अह बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर के नाम पर झूठी राजनीति करने का काम कर रहे है। कल तक उन्होंने बाबा साहब की सुध भी नहीं थी और आज वोट बैंक की खातिर वो डा. अम्बेडकर जी के नाम पर राजनीति कर रहे है पर हमारा समाज खासकर दलित यह जानता है कि किस राजनीतिक पार्टी में उसका हित सुरक्षित है। भारत बंद के दौरान जिस तरह भाजपा शासित राज्यों में पुलिस व भाजपा के असामाजिक तत्वों ने ताण्डव मचाकर 17 बेगुनाह लोगों की जान ली वो किसी से छुपा नहीं है। आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की लहर में भाजपा की एनडीए सरकार पूरी तरह खत्म हो जाएगी और केंद्र में बसपा मुखिया बहन कुमारी मायावती के नेतृत्व में एक अच्छी सरकार बनेगी। हालांकि उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कौन बनेगा इसका फैसला चुनाव के बाद ही महागठबंधन तय करेगा। उन्होंने कहा कि बसपा ने हमेशा गरीब, बेसहारा, मजदूर, अल्पसंख्यक दलितों सहित शोषित वर्गों के उत्थान के लिए काम किया है और हम सब बाबा साहब के मिशन को आगे बढ़ाने के कार्य करते रहेंगे।

Related posts