वाराणसी। गैंगेस्टर एक्ट के लंबित एक मामले में गवाही देने के लिए हाज़िर न होने पर अपर जिला जज (तृतीय) राजीव कमल पाण्डेय की अदालत ने चौक थाने के पूर्व इंस्पेक्टर महाबीर चौधरी समेत तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया। अदालत ने वारंट की तामील सुनिश्चित कराने के लिए वाराणसी जोन के आईजी को निर्देशित किया है। अदालत ने आईजी को प्रेषित पत्र मे कहा है कि मुकदमे के वादी पूर्व चौक इंस्पेक्टर महाबीर चौधरी, रोडवेज चौकी प्रभारी ओपी सिंह व पूर्व हेड कांस्टेबल राधारमण के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया जा रहा है। तीनों गवाहों पर वारंट का तामिला कराकर मुकदमें कि नियत तिथि 19 जनवरी को उन्हें न्यायालय के समक्ष उपस्थित कराना सुनिश्चित कराये।

गवाही ना देने पर कोर्ट ने जारी किया वारंट

प्रकरण के मुताबिक 21 जून 1999 को तत्कालीन चौक इंस्पेक्टर महाबीर चौधरी ने मुगलसराय के शास्त्री नगर रेलवे कॉलोनी निवासी शंकर डे के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के मुकदमा दर्ज किया था। इस मामले में अदालत द्वारा 11 अक्टूबर 2011 को आरोपी पर आरोप निर्धारित किये गए। मुकदमे में तत्कालीन चौक इंस्पेक्टर समेत 16 पुलिसकर्मी गवाह है। गवाही के लिए अदालत द्वारा कई दफा गवाहों को तलब किया गया, किंतु अभी तक इस मामले में किसी की गवाही नहीं हो सकी है। अदालत द्वारा इस मामले में पूर्व में भी गवाहों को हाज़िर करने के लिए 23 जून 2016 को जिलाधिकारी व एसएसपी को निर्देश दिया जा चुका है।

admin

No Comments

Leave a Comment