बीएचयू में आमने-सामने हुए छात्रों के दो गुट, इस मुद्दे को लेकर हुई तकररार

वाराणसी। बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में शनिवार की शाम छात्रों के दो गुट आमने-सामने हो गए. सिंहद्वार पर धरना दे रहे छात्रों के दोनों गुटों के बीच हल्की धक्का-मुक्की भी हुई. मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों गुटों को हटाया, तब मामला शांत हुआ. घटना के चलते मुख्य गेट पर काफी देर तक अफरातफरी मची रही.

वामपंथी और एबीवीपी के छात्र हुए आमने सामने

वामपंथी विचारधारा के छात्रों की ओर से केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ सिंहद्वार पर शाम को एक धरना चल रहा था. इसमें शामिल छात्र दमन और फांसीवादी हमलों को आधार बनाकर प्रदर्शन कर रहे थे. उनका आरोप था कि मोदी सरकार में अभिव्यक्ति की आजादी छीन ली गई है. इसी बीच एबीवीपी छात्रों का एक गुट विरोध मार्च करते हुए मुख्य द्वार पर पहुंच गया. इसके बाद दोनों तरफ से उत्तेजक नारेबाजी शुरू हो गई. दोनों गुट एक-दूसरे के खिलाफ नारे लगा रहे थे, जिससे माहौल गरम हो गया.

पुलिस ने किया बीच-बचाव

छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए मुख्य द्वार पर पहले से ही पुलिस बल तैनात थी. सीओ भेलूपुर अनिल कुमार पुलिस फोर्स के साथ मौजूद थे. दोनों गुटों में जब तनाब बढ़ने लगा तो उन्होंने खुद मोर्चा संभाला और छात्रों का समझाते हुए अलग किया. दरअसल पिछले तीन सालों से बीएचयू में धरना, प्रदर्शन और बवाल की घटनाएं बढ़ रही हैं. ऐसा लग रहा है कि मदन मोहन मालवीय की ये बगिया अब राजनीति का नया अड्डा बन गई है, जहां पढ़ाई कम….बवाल ज्यादा होता है.

Related posts