जौनपुर। भैरोपुर गांव (बक्शा) में दो सगे भाइयों के जमीनी विवाद में एक पक्ष ने पुलिस पर पिटाई का आरोप लगाकर गुरुवार की सुबह सवंसा के पास राष्ट्रीय राज्य मार्ग जाम कर दिया। परिजनों का आरोप था कि थानाध्यक्ष की पिटाई से घायल को गंभीर चोटें आई है। पुलिस एवं ग्रामीणों ने लोगों को समझा बुझाकर कर जाम खोलवाने के बाद घायल को अस्पताल ले गए। गांव के निवासी राजेश गौतम एवं रमेश गौतम सगे भाई है। सामूहिक आबादी की जमीन को लेकर दोनों भाइयों में आपसी बटवारे का विवाद चला आ रहा था। सोमवार को दोनों भाइयों में जमीन को लेकर वाद विवाद हो गया। सूचना पर डायल 100 नम्बर की पुलिस मौके पर पहुँच दोनों पक्षों को थाने ले गई। जहाँ सुलह समझौता न होने पर दोनों पक्षों को चालान न्यायालय भेज दिया गया।

आरोपों के घेरे में ‘यादवजी’

राजेश गौतम का आरोप है कि थानाध्यक्ष अरविंद कुमार यादव ने पट्टे एवं बेल्ट से मेरी पिटाई कर दिए जिससे मेरे शरीर एवं गले में गंभीर चोटे आई। गुरुवार को पुन: तबियत खराब होने पर पुलिस पर कार्रवाई करने के लिए सड़क जाम कर दिए। पीड़ित राजेश की पत्नी सुनीता ने बताया कि पुलिस विपक्षी से मिलकर एक तरफा कार्रवाई कर रही है। घर से चारपाई पर घायल को लाद ग्रामीण हाइवे पर मार्ग अवरुद्ध कर दिए। सूचना पर पहुंची बक्शा, सिकरारा एवं सरायख्वाजा पुलिस व ग्रामीणों ने समझा बुझाकर जाम खत्म करवाया। मामला तूल पकड़ता देख एसओ खुद ही घायल को बेहतर उपचार के लिए अस्पताल ले गए। इस सम्बन्ध में एसओ अरविंद कुमार यादव पिटाई की बात से पूरी तरह इनकार करते हुए बताया कि दोनों भाइयों के जमीनी विवाद के कारण दोनों का मेडिकल परीक्षण करवा कर चालान न्यायालय भेजा गया था।

admin

No Comments

Leave a Comment