चोरी का माल ‘बांटने’ को लेकर बढ़ा ऐसा बवाल कि बड़े ने छोटे भाई का गला दिया काट, पुलिस ने आरोपित को किया गिरफ्तार

आजमगढ़। रिश्ते में दोनों भाई थे लेकिन चोरी की लत ने दोनों को इस कदर नजदीक कर दिया था कि परिवार के अलग होने पर भी साथ रहते थे। एक साथ घटनाओं को अंजाम देने और मिलने वाले धन से अय्याशी करना उनकी फितरत में था। सोमवार की रात भी कहीं हाथ साफ किया लेकिन मिलने वाली रकम के बंटवारे को लेकर विवाद बढ़ता गया। बात इतनी बढ़ गयी कि बड़े भाई ने छोटे भाई का गला रेत तमसा नदी पुल के नीचे तड़पता हुआ छोड़ दिया। वहां से गुजर रहे स्थानीय लोगों की नजर पड़ी तो पुलिस का घटना की सूचना दिये और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

पिता ने निकाल दिया था घर से

इस घटनाक्रम में गंभीर रूप से जख्मी हुआ मो. उमैर जगदीशपुर (जहानागंज) निवासी है जबकि उसका गला रेतने वाला चचेरा भाई मुबारकपुर कस्बा निवासी सैफ शातिर चोर हैं। पहले दोनों का परिवार एक साथ रहता था लेकिन कुछ समय पूर्व सैफ का परिवार मुबारकपुर चला गया। चोरी की आदत को देखते हुए दो साल पहले उमैर के पिता ने उसे घर से निकाल दिया। इसके बाद से दोनों चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे और साथ रहते थे। बताते हैं कि सोमवार की रात दोनों ने कहीं चोरी की और धन के बंटवारे के लिए मंगलवार की सुबह नरौली पुल के पास तमसा नदी के किनारे गए। वहीं किसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया। बात इतनी बढ़ गयी कि सैफ ने उमैर का गला चाकू से रेत दिया और उसे वहीं तड़पता छोड़ फरार हो गया। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। सीओ सिटी इलामारन जी ने आरम्भिक जांच और पूछताछ के बाद बताया कि दोनों के बीच सामान के बटवारे को लेकर विवाद हुआ था जिसका अंत चाकूबाजी से हुआ। आरोपी का गिरफ्तार कर लिया गया है।

Related posts