जौनपुर। जनपद में गोलियों की तड़तड़ाहट थमने का नाम नहीं ले रही है। दिनदहाड़े गोलियां बरसाने का सिलसिला मंगलवार की शाम फिर से दोहराया गया। शिवापार गांव (लाईनबाजार) में बाइक से पहुंचे मनबढ़ों ने टीडी कालेज के दो छात्र पर फिल्मी तरीके से गोलियां बरसायी। गांववालों के ललकारने पर हमलावर धमकियां देते हुए मौके से फरार हो गये। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल भिजवाया। देर शाम पुलिस ने एक आरोपित को पकड़ने का दावा किया है। गौरतलब है कि इन दिनों सरेआम फायरिंग कर दो लोगों को जख्मी का घटनाएं लगातार है रही है। इससे पहले केराकत में लगाता दो दिन तक गोलियां बरसा कर दो लोगों को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया गया था। खास यह कि गोलीबारी से लेकर गैंगरेप की बढ़ती घटनाओं के बावजूद पुलिस का पूरा जोर प्रमुखी विवाद को लेकर राजनेताओं की गिरफ्तारी पर है। पूर्व सांसद, पूर्व मंत्री और एमएलसी के घरों पर तो छापेमारी हो रही है लेकिन क्राइम कंट्रोल पर ध्यान नहीं है।
पुलिस ने छेड़खानी विवाद बताया घटना का सबब
पुलिस सूत्रों के मुताबिक चार दिन पहले टीडी कालेज में एक छात्रा के साथ छेड़खानी को लेकर दो छात्र गुटो में मारपीट हो गयी थी। मंगलवार की शाम कुद्दुपुर-इस्मैला गांव निवासी टीडी कालेज के छात्र करूणाकर ओझा और शुभम ओझा बाइक से कहीं जा रहे थे। शिवापार गांव के पास दूसरे गुट के आधा दर्जन मनबढों ने दोनो पर हमला बोल दिया। पहले हमलावरो दोनो की जमकर पिटाई कर दिया बाद दोनों के पैर में गोली मारकर फरार हो गये। दिनदहाड़े हुई इस वारदात से पूरे इलाके में दहशत का माहौल कायम हो गया।
पुलिस की नजर बड़े गुडवर्क पर
बढ़ते अपराधों के चलते विरोधियों ही नहीं बल्कि प्रदेश शासन के निशाने पर आने के बाद पुलिस का पूरा ध्यान खुटहन ब्लाक प्रमुख के विश्वास प्रस्ताव को लेकर बवाल पर है। पुलिस मान कर चल रही है इसमें वांछित किसी की गिरफ्तारी हो जाये तो पूरा फोकस उसी पर चला जायेगा। यहीं कारण था कि एक सप्ताह के अंदर एनबीडब्ल्यू लेकर कुर्की के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया है। दूसरी तरफ संगीन मामलों के आरोपित खुले घूम रहे हैं।

admin

No Comments

Leave a Comment