आज़मगढ़। दुस्साहसिक बदमाशों ने पुलिस को खुली चुनौती देते हुए जेल के ठीक सामने स्थित जेल लाइन में घुसकर बंदीरक्षक को गोली मार दी। गोली की आवाज सुनते ही हड़कंप मच गया। खून से लतपथ बंदीरक्षक को जेल अधीक्षक ने अपनी गाड़ी से लाइफ लाइन अस्पताल भेजा। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। एसपी समेत जिले के आला अधिकारियों ने घटना के बाद बदमाशों की धरपकड़ के लिए नाकेबंदी भी शुरू कर दी लेकिन कोई सफलता नहीं मिल सकी थी।

बाइक सवार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

 सिधारी के इटौरा में नवीन जेल के ठीक सामने जेल लाइन है। यहां बंदीरक्षकों और जेल अधीक्षक का भी आवास है बाइक से दो बदमाश जेल लाइन में स्थित आवास में रहने वाले कौशांबी निवारी बंदीरक्षक मानसिंह यादव के घर पहुंचे। खटखटाने पर मानसिंह के भतीजे ने दरवाजा खोला। भतीजे के आवाज देने पर जैसे ही मानसिंह गेट पर पहुंचा एक बदमाश ने उसे गोली मार दी। गोली सीने में लगने के बाद पीठ के रास्ते बाहर निकल गई। गोली की आवाज सुनकर इससे पहले कि आसपास के लोग जुटते दोनों बदमाश बाइक से फरार हो गए। एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह के अनुसार बदमाशों की घेरेबंदी के लिए प्रयास किया जा रहा है।

हाई सिक्योरिटी ज़ोन में वारदात से पुलिस को दी चुनौती

जेल लाइन में घुसकर बन्दीरक्षक को गोली मारकर सोमवार रात बदमाशों ने पुलिस को चुनौती दे दी। इस दुस्साहसिक वारदात से पुलिस महकमे में हड़कंप है। देर रात एसपी अजय साहनी अपनी टीम के साथ शहर के मदया स्थित निजी अस्पताल के बाहर स्थिति की समीक्षा करते दिखाई दिये। लगातार डेढ़ दर्जन पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ के बाद इस तरह की घटना से पुलिस टीम सकते में है। इटौरा स्थित नवीन जेल के ठीक सामने बने जेल लाइन के सरकारी आवासों में जेल कर्मी रहते हैं। लाइन के दो गेट हरवक्त खुले रहते हैं लेकिन ठीक सामने हाई सिक्योरिटी जोन में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों की तैनाती भी है।

लाइन में ही जेल के अधिकारी भी रहते हैं। इससे असलहे भी रहते ही होंगे। ऐसे में हाई सिक्योरिटी ज़ोन में घुसकर बन्दीरक्षक को गोली मारना बदमाशों के दुस्साहस को दर्शाता है। एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप के अनुसार बदमाशों का जल्द पता लगा लिया जाएगा। स्थिति की समीक्षा लगातार की जा रही है। जेल अधीक्षक अनिल गौतम घटना से हतप्रभ हैं। उन्होंने कहा कि समूचा जेल प्रशासन इस घटना से सकते में हैं। अब लाइन की सुरक्षा पर नए सिरे से समीक्षा करनी होगी। पुलिस लागातर घायल बन्दीरक्षक मान सिंह यादव से जुड़ी जानकारी जुटा रही है। जेलकर्मियों से भी पूछताछ जारी है।

admin

No Comments

Leave a Comment