जुए की फड़ पर युवती की पिटाई से दो गांवों की वनवासी बस्ती आमने-सामने आयी, थाने पर देर तक हंगामा

वाराणसी। जुआ खेलने लोगों में बकायेदार की मौजूदगी पर उषा नट (24) वहां जा धमकी। उषा ने अपनी बकाया रकम की मांग की जिस पर जुआड़ियों ने उसे गिरा कर पीटना शुरू कर दिया। विवाद देखकर जुटे लोगों ने बीच-बचाव की कोशिश की लेकिन मनबढ़ों ने उन्हें भी पीटना शुरू कर दिया। शनिवार की देर शाम हुए घटनाक्रम की शिकायत पुलिस से की गयी थी लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। इससे भड़के वनवासी बस्ती के दर्जनों मुसहर रविवार को सुबह थाने पर पहुंचे और धौकलगंज चौकी प्रभारी के खिलाफ हंगामा करने लगे। यह देख थाना प्रभारी घनानन्द तिवारी मौके पर पहुचे और समझा-बुझा कर शांत कराया। बाद में घायलों का सेवापुरी स्वास्थ्य केन्द्र पर मेडिकल मुआयना कराने के साथ चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। घटनाक्रम को लेकर तनाव व्याप्त है।

कुछ इस तरह रहा घटनाक्रम

बताया जाता है कि मझगवां गांव के दीनानट,मनोज ने समेत आधा दर्जन नट जुआ खेल रहे थे। इसी बीच उषा नट पुत्री बब्बर नट अपना पैसा मांगने लगी। इसीको लेकर उषा नट की मनबढों ने पिटाई शुरू कर दी। सरावां मुसहर बस्ती के लोग जब विरोध किये तो घर पर चढ़ कर लाठी डंडे से जमकर पिटाई नट विरादरी के लोग ने कर दी। मारपीट में रानी वनवासी (35), बिन्दुराम (32),जडावती देवी (55) और उषा देवी समेत पांच लोग घायल हो गये। घटना की जानकारी धौकलगंज पुलिस को दी गयी किन्तु पुलिस ने कोई कदम नहीं उठाया। इससे भड़के गुस्साये वनवासी बस्ती के दर्जनों लोग अल सुबह थाने पहुंच गये और हंगामा शुरू कर दिया।

Related posts