वाराणसी। बीएचयू से आयुर्वेद संकाय, चिकित्सा विज्ञान संस्थान से बीएएमएस करने वाले फरुर्खाबाद के मूल निवासी मृत्युंजय द्विवेदी को एक और बड़ी उपलब्धि मिली है। मृत्युंजय को यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत 28 जनवरी से 4 फरवरी तक भारत से पुर्तगाल जाने वाले छात्रदल में चुना गया है। वह पुर्तगाल में भारतीय एम्बेसडर के रूप में भारतीय संस्कृति और भारतीय चिकित्सा व बीएचयू की अनूठी परंपरा का प्रतिनिधित्व करेंगे। बीएचयू से सिर्फ उनका ही चयन हुआ है। मृत्युंजय आयुर्वेद चिकित्सा के साथ ही वे संगीत और समाजसेवा में भी रूचि रखते हैं। पढ़ाई में भी अव्वल रहने के साथ कई राष्ट्रीय गोष्ठियों व कार्यक्रमों में भाग लेने वाले मृत्युंजय नवोदय विद्यालय के भूतपूर्व छात्र हैं। यही नहीं वह विश्व आयुर्वेद परिषद् के सदस्य तथा सामाजिक संस्था हेल्पिंग हैण्ड यूथ समिति के पदाधिकारी भी हैं।

यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम में लाखों ने किया था आवेदन

युवा कल्याण एवं खेल मंत्रालय व पुर्तगाल सरकार के साझे यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम का मकसद भारतीयों व पुर्तगालियों के बीच विचारों व संस्कृति की आपसी समझ को बढ़ाना है। इससे दोनों देशों के बीच लम्बे व पारस्परिक सौहार्द्रपूर्ण कूटनीतिक रिश्तों को जनसाधारण के सौहार्द्रपूर्ण संबंधों को और भी मजबूत किया जा सके। इस तरह दोनों देशों के बीच पहला प्रयोग है और इसके लिए मृत्युंजय को एम्बेसडर बनाना बड़ी चुनौती के रूप में देखा जा रहा है। गौरतलब है कि इसके लिए देश भर से आये लाखों आवेदनों में से जिन युवाओं का चुनाव हुआ है वे भिन्न भिन्न क्षेत्रों से आते हुए विविधतापूर्ण भारत का बखूबी प्रतिनिधित्व करते हैं। इनमें मृत्युंजय को भारतीय चिकित्सा का प्रतिनिधित्व करने का उत्तरदायित्व सौंपा गया है जो युवाओं के लिए आयुर्वेद पर भारत के प्रतिनिधि होंगे।

admin

No Comments

Leave a Comment