बाइक छोड़ने पर नहीं बनी ‘बात’ तो एक्स आर्मी मैन ने चौकी में दरोगा पर उठा दिया हाथ, वीडियो वायरल होने पर रपट दर्ज

मऊ। रूटीन चेकिगं के दौरान सड़क किनारे मिली लावारिस बाइक को लेकर आना सारहू चकी प्रभारी दल प्रताप को भारी पड़ गया। बाइक को छुड़वाने के लिए आये एक्स आर्मी मैन भीमराम ने दरोगा की चौकी में ही जमकर पिटाई कर दी। गुरुवार की दोपहर बाद हुई इस दुस्साहसिक वारदात का एक पहलू यह भी रहा कि दरोगापर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए भीमराम ने तहरीर सौंपदी। घटनाक्रम का वीडियो वायरल होने के बाद महकमे में हडकंप मच गयी। सारहु चौकी प्रभारी से रिटायर्ड सैन्य कर्मी की हुयी मारपीट का मामला आला अफसरों के संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने मारपीट करने वाले के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है। बावजूद इसके मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा हैै।

न मिलने पर वारिस बाइक पहुंची थी चौकी

बताया जाता है कि मुंगेसर गांव (सरायलखंसी) निवासी एक्स आर्मी मैन भीमराम का पुत्र गुरुवार दोपहर करवाचौथ की खरीदारी करने जिला मुख्यालय आया था। अपनी बाइक खड़ी कर युवक खरीदारी कर रहा था। इस दौरान रूटीन गश्त पर जा रहे चौकी प्रभारी सारहू ने सड़क पर किनारे खड़ी बाइक के बारे में लोगों से पूछताछ की। कोई वारिस न मिलने पर दरोगा ने बाइक को कस्टडी में लेकर चौकी में पहुंचवा दी। खरीदारी कर लौटने पर युवक को बाकि नहीं मिली। पता चला कि बाइक चौकी पर है। उसने पिता से चौकी दुर्व्यवहार की शिकायत करते हुए उन्हें भी बुला लिया। यहां कहा सुनी के दौरान दरोगा ने हाथ उठाया तो भीमराम ने चौकी में जमकर पिटाई कर दी।

पंचायत कर मामले को दबाने की कोशिश

घटनाक्रम का एक पहलू यह भी रहा कि पिटाई करने वाला पक्ष दरोगा के खिलाफ मुकदमा कायम कराने के लिए जोर दे रहा था। दूसरी तरफ कोतवाली प्रभारी मामले को रफादफा कराने की कोशिश में जुटे थे। इस बीच वीडियों कुछ ऐसा वायरल हुआ कि जिले ही नहीं बल्कि प्रदेश की राजधानी तक खबर पहुंच गयी। सरेआम दरोगा की चौकी के भीतर पिटाई मामले में कार्रवाई के निर्देश पर मुकदमा कायम हो सका। 

Related posts