मऊ। जेल मार्ग (सराय लखंसी) स्थित हरपुर गांव मोड़ के पास मंगलवार की दोपहर लगभग 11 बजे तेज रफ्तार से जा रही अनियंत्रित कार सड़क किनारे पटरी पर गोबर पाथ रही सास सोनिया देवी (70) तथा बहू तारा देवी (42) के लिए काल साबित हुई। हादसे में एक व्यक्ति रामदरश यादव (38) गंभीर रूप से घायल होने के बाद जिला अस्पताल में जीवन और मौत से जूझ रहा है। दुर्घटना के बाद ड्राइवर कुछ दूर कार खड़ी कर भागने लगा लेकिन एक सिपाही ने पीछा कर धर-दबोचा। आक्रोशित ग्रामीणों ने स्विफ्ट डिजायर कार को को आग के हवाले करते हुए सड़क पर जाम लगा दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मुकदमा कायम करने से लेकर परिजनों को आर्थिक मदद दिलाने का आश्वासन देकर तीन घंटे बाद किसी तरह जाम को समाप्त कराया। परिजनों की तहरीर पर मुकदमा कायम करते हुए ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सड़क की दोनों पटरी पर जा कर कुचला

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हरपुर गांव के मोड़ के पास एक कार चालक लापरवाही से मऊ से सलाहाबाद की ओर जा रहा था। सड़क पर कार लहराते वह जैसे ही हरपुर मोड़ के पास पहुंचा अपने घर के पास सड़क किनारे गोबर पाथ रही सोनिया देवी व उनकी बहू तारा देवी को कुचल दिया। कार पूरी तरह से नियंत्रण के बाहर होने के चलते दूसरी पटरी पर चली गयी और वहां मौजूद रामदरश यादव को जोरदार टक्कर मार दी। रामदरश गंभीर रूप से घायल हो गया जिस पर लोग आनन-फानन में जिला अस्पताल लेकर पहुंचें। कार थोड़ा आगे जाकर खंभे से टकरा कर रुक गयी जिस ड्राइवर निकलकर भागने लगा। मौके पर हल्के के सिपाही ने उसे दौड़ा कर पकड़ लिया। उधर घटना के बाद उत्तेजित ग्रामीणों ने कार को आग के हवाले कर दिया जिससे वे धू-धू कर जल गया। घटना के बाद मृतक के परिजनों के घर रो- रो कर बुरा हाल है तथा घायल जिला अस्पताल में जीवन और मृत्यु से जूझ रहा है। तारा दो पुत्र और दो बेटियों की मां थी।

admin

No Comments

Leave a Comment