बलिया। प्रधानपुर मार्ग पर गौरपुरा मोड़ (रसड़ा) पर मंगलवार की सुबह लगभग 9 बजे एक बाइक इतनी रफ्तार से आ रही था कि उस सवार युवक का नियंत्रण समाप्त हो गया था। नतीजा, सड़क के किनारे सवारी वाहन की प्रतीक्षा कर रहे कमलदेव (60) व उनकी पुत्री आशा देवी (35) को जोरदार टक्कर मारते हुए बिजली के खंभे से बाइक जा टकरायी। हादसे में तीनों गंभीर रूप से घायल हो गये। घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां आशा को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। दूसरे दोनों घायलों की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया। कमलदेव ने भी बलिया जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया जबकि बाइक चला रहा त्रिलोकी (22) जीवन-मृत्यु के बीच संघर्ष कर रहा है। मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के भेजने को लेकर परिजनों एवं पुलिस में नोकझोक भी हुई। एसएसआई मोतीलाल पटेल व सिटी इंचार्ज उमाशंकर त्रिपाठी के आश्वासन पर परिजन पोस्टमार्टम के लिये राजी हुए।

मायके से ससुराल जा रही थी बेटी

रसडा थाना क्षेत्र के गौरपुरा निवासी कमलदेव अपनी पुत्री आशा देवी पत्नी रामाश्रय को उसकी ससुराल औरापुर कासिमाबाद (गाजीपुर) लेकर जाने के लिए किसी वाहन के इंतजार में खड़े थे। कस्बे की तरफ से आ रहा तेज रफ्तार बाइक सवार युवक त्रिलोकी निवासी गौरा नोनहरा (गाजीपुर) पिता व पिता पुत्री को धक्का मारते हुए बिजली पोल से जा टकराया। पिता पुत्री की मौत की खबर लगते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बड़ी संख्या में जुटे लोगों की पुलिस से तकरार भी हुई लेकिन किसी तरह समझा-बुझा कर शांत कराया गया।

admin

No Comments

Leave a Comment