मीरजापुर। नरायनपुर क्षेत्र में बैकुण्ठपुर नहर के पास हत्या कर फेंके गये शव की शिनाख्त होने के 24 घंटे के भीतर अदलहाट पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया। जलालपुर-माफी गांव (चुनार) निवासी अतुल कुमार पटेल की हत्या का ताना-बाना उसकी कथित प्रेमिका कौशिल्या और उसके पति रामनगीना उर्फ बबलू ने मिल कर बुना था। योजना के तहत अतुल को बुलाया गया था और उसे शराब पिला कर बेसुध करने के बाद सिर कूंच कर मौत के घाट उतार दिया गया। खास यह कि जिस प्रेमिका के पीछे अतुल दीवाना बना था उसी ने डंडे से सिर पर पहला वार किया। प्रेमिका समेत चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मीडिया के सामने अपना गुनाह कबूल करते हुए आरोपितों ने कहा कि न चाहते हुए ऐसा करना पड़ा।

सफाई में कहा, नहीं मान रहा था अतुल

रामनगीना उर्फ बबलू ने बताया कि मृतक अतुल पटेल उसके घर आता-जाता था और पत्नी पर गलत निगाह रखता था। कई बार समझाने के बाद भी मान नही रहा था तथा मेरी पत्नी को न चाहते हुए भी परेशान कर रहा था। हरकतों से आजिज आकर मृतक अतुल पटेल को अपने ससुराल हाजीपट्टी योजना के तहत लिवाकर आया तथा शराब पिलाकर नहर पर ले जाकर अपने रिश्तेदार श्यामसुन्दर, सोनू और अपनी पत्नी कौशिल्या के साथ मिलकर गला दबाकर डण्डे से सिर पर मारकर मौत के घाट उतार दिया तथा लाश नहर के पास खेत में छोड़ कर हमलोग भाग गये। एसपी आशीष तिवारी ने खुलासा करने वाले इंस्पेक्टर बृजेश सिंह समेत पुलिस टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

admin

No Comments

Leave a Comment