बढ़ रहा था भारत-पाक मैच का रोमांच तो सट्टेबाज लगा रहे थे लाखों के दांव, छापेमारी में 2.12 लाख रुपये समेत एक गिरफ्तार

वाराणसी। भारत और पाकिस्तान के बीच रविवार की शाम होने वाले मुकाबले में रोमांच चरम पर था। मैच को लेकर कई दिनों से चर्चा चल रही थी। इसका लाभ उठाते हुए सट्टेबाज भी सक्रिय थे। क्राइम ब्रांच प्रभारी विक्रम सिंह को सूचना मिली कि मड़ौली (मंडुवाडीह) स्थित एक मकान से लाखों का सट्टा लग रहा है। इस पर मंडुवाडीह पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने मड़ौली में स्थित मकान के बाहर घेराबंदी कर ली। पुलिस टीम उक्त मकान के अंदर गयी तो एक कमरे में आनंद यादव नामक युवक आॅनलाइन सट्टा खेला रहा था। उसके पास से 2.12 लाख रुपये नकदी के अलावा मोबाइल फोन व लैपटॉप जिससे सट्टा खेला रहा था मिला है। छापेमारी के दौरान मकान में मौजूद उसके 2 साथी फरार हो गए।

कई सफेदपोश रडार पर

क्राइम ब्रांच को सूचना मिल रही थी कि आईपीएल की तर्ज पर विश्वकप के मैचौं को लेकर भी सट्टा लगाया जा रहा है। भारत-पाक के मैच में राशि काफी अधिक लगी थी। पहले तो मैच के होने को लेकर दांव लग रहे थे। बरसात के चलते कई मैच बाधित हुए हैं जिस पर भी सट्टा लग रहा था। मैच शुरू होने के बाद सटीक सूचना मिली कि मडौली के एक मकान में आॅन लाइन सट्टा चल रहा है। इसके बाद छापेमारी की गयी। सीओ भेलूपुर ने स्वीकार किया कि पुलिस टीम ने गिरफ्तार मुख्य सटोरिये आनंद यादव पूछताछ की तो उसने मौके से भागे दो सटोरियो समेत कइयों के नाम कबूल किये हैं। सट्टेबाजी के खेल में कई सफेदपोश भी शामिल हैं जिनकी भूमिका की जांच हो रही है। गिरफ्तारी और बरादमगी करने वाली टीम में एसओ मंड़ुवाडीह संजय पाण्डेय के अलावा एसओ लोहता राकेश कुमार सिंह भी शामिल थे।

Related posts