चंदौली। अमूमन किसी मामले में आरोपित को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस उसे लाकअप में डाल देती है। मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश करने के पहले कानूनी प्रक्रिया के तहत मेडिकल मुआयना के लिए ले जाता जाता है। कुछ ऐसी ही कार्रवाई को अंजाम दे रही मुगलसराय पुलिस उस समय सकते में आ गयी शाहिद नामक युवक पुलिस अभिरक्षा में मंगलवार दोपहर बाद दोनों कलाइयों की नस काट ली। आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां दशा खतरे के बाहर बतायी गयी है। पुलिस का कहना है कि जेल जाने से बचने के लिए आरोपी ने यह हरकत की है।

सोशल साइट से किया था महिला को हलकान

मूल रूप से जैतपुरा निवासी शाहिद के खिलाफ पड़ाव क्षेत्र की एक विवाहिता ने मुकदमा कायम कराया था। आरोप था कि महिला की तस्वीर से फोटोशाप से छेड़छाड़ कर वायरल करने के संग फर्जी मैरिज सर्टिफिकेट बनवा कर सोशन मीडिया पर बदनाम करने की खातिर शाहिद ने डाला था। आरोपों की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने साइबर एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा कायम करते हुए शाहिद को हिरासत में लिया था। पड़ाव से थाने लाते समय उसने घरवालों को बुलाने के संग तबियत खराब होने की दुहाई दी। आरोप है कि मिलने के लिए पहुंचे भाई ने कोई धारदार वस्तु थमा दी जिससे उसने हाथ पर वार कर खुद को जख्मी कर लिया। इतना ही नहीं पुलिस की बदहवासी देख भागने की कोशिश की लेकिन दौड़ा कर पकड़ लिया गया।

कई घटनाएं हो चुकी

इन दिनों पुलिस हिरासत में आने के बाद खुद को जख्मी करने की कई घटनाएं हो चुकी है। इससे पहले चेतगंज थाने में भी एक ने खुद को घायल कर लिया था। कुछ ऐसा ही चोलापुर में हुआ था जहां हत्या के मामले में पकड़े गये आरोपित ने भोर में गले पर वार कर खुदकुशी की कोशिश से पुलिस को हलकान कर दिया। बहरहाल मुगलसराय पुलिस शहिद के भाई के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई का मन बना चुकी है।

admin

No Comments

Leave a Comment