निकले थे पुलिस भर्ती के लिए काल कर रहा था इंतजार, बस पलटने से दो की मौत और 19 जख्मी

वाराणसी। एनएच 2 पर बिहड़ा (मिर्जामुराद) के समीप सोमवार की भोर में अनुबंधित रोडवेज बस के ड्राइवर की लापरवाही दो युवकों के मौत का सबब बन गयी। हादसे में 19 अन्य लोग भी जख्मी हो गये हैं जिनमें से कुछ की दशा चिन्ताजनक बनी है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक यहां पर फ्लाईओवर का काम चल रहा है जिसके चलते रुट डायवर्जन लागू किया गया लेकिन ड्राइवर ने इस पर ध्यान ही नहीं दिया था। नतीजा एन वक्त पर तेज रफ्तार से जा रही बस की पूरी स्टेयरिंंग घुमानी पड़ी जिसके चलते वह पलट गयी। अचानक हुए हादसे के बाद घायलों की चीख-पुकार से कोहराम मच गया। हादसे के शिकारों में अधिकांश पुलिस भर्ती परीक्षा में शामिल होने के लिए आ रहे थे।

1075

भाई ने लगाया पुलिस पर लापरवाही का आरोप

हादसे का शिकार बने मऊ आइमा (इलाहाबाद) निवासी मोहम्मद अकील (26) के भाई हुस्ने आलम ने पुलिस पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। उसका कहना था कि बस एक्सीडेंट के बाद स्थानीय लोगों ने 100 नम्बर पर फोन कर पुलिस से मदद की गुहार लगायी थी। बावजूद इसके गाड़ी के आने में खासा समय लगा। यदि समय रहते पुलिस ने मदद की होती तो मोहब्बत अकील की जिंदगी बच जाती। हुस्ने आलम पुलिस भर्ती परीक्षा देने आ रहे अकील के साथ थे। बहरहाल अकील की मौके पर मौत हो गयी थी जबकि स्वप्निल (19) ने दोपहर बाद बीएचयू ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

सीएम योगी ने जताया दुख

इसके अतिरिक्त हादसे के जख्मी हुए 19 लोगों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है जहां पर कुछ की स्थिति ठीक बतायी जा रही है जबकि कई की दशा स्थिर बनी है। दुर्घटना की जानकारी मिलने पर सीएम योगी ने भी दुख जताते हुए पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों से घायलों की सभी संभव सहायता करने का निर्देश दिया है। मृतकों के परिजनों को हादसे की जानकारी देने के साथ शव को मर्चरी में रख दिया गया है।

Related posts