वाराणसी। फौजी पति की सीमा पर तैनाती के दौरान युवती की एक दरोगा से नजदीकी बढ़ने लगी। काफी दिनों तक नजदीकी संंबंध भी रहे लेकिन बाद में दरोगा का तबादला सुन्दरपुर चौकी से जंसा हो गया। बावजूद इसके मिलने-जुलने का सिलसिला जारी रहा। दो माह पहले पति छुट्टी पर आया तो उसे समूचे मामले की जानकारी मिली। उसने पत्नी को संग रखने से इनकार कर दिया। दोनों बच्चों के संग युवती थाने पर दरोगा के यहां आयी। रात को युवती ने पूरे मामले की जानकारी दी तो दरोगा के होश फाख्ता हो गये। मंगलवार की दोपहर युवती ने थाना परिसर में ही जहर का सेवन कर लिया। कहां मामले को दबाने का प्रयास हो रखा था लेकिन मुसीबत गले पड़ गयी। पुलिस पहले तो रोहनियां के निजी अस्पताल ले गयी जहां हालत गंभीर होने पर ट्रामा सेन्टर बीएचयू भेज दिया गया। इस बाबत पूछे जाने पर एसओ जंसा घटना से अनभिज्ञता जताते रहे।

बिहार की रहने वाली है युवती

बताया जाता है कि सुन्दरपुर (लंका) निवासिनी युवती का पूर्व मे सुन्दरपुर चौकी पर तैनात उप निरीक्षक से प्रेम हो गया था। युवती का पति सेना में लद्दाख में तैनात है और उसे दो बच्चे हंै। पति दो मांह पूर्व अवकाश लेकर घर आया तो उसे इसकी जानकारी हुई। पति के ठुकराये जाने पर युवती अपने दो बच्चों को लेकर जंसा थाने अपने दरोगा प्रेमी के पास आई और रात भर उसके कमरे पर रही। मंगलवार की दोपहर युवती ने जंसा थाने के परिसर में जहरीला पदार्थ खा लिया। इस घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चाए व्याप्त हैं। युवती मूल रूप से बिहार की निवासिनी बतायी जाती है। बहरहाल उसके पति को घटना की जानकारी दी गयी है। आला अफसरों को इसकी जानकारी नहीं दी गयी है और मामले को रफा-दफा करने के प्रयास हो रहे हैंं।

admin

No Comments

Leave a Comment