जौनपुर। जिले के पंवारा थाना क्षेत्र के बरेठी गांव में बीते दिनों हुई प्रियंका यादव हत्याकांड का सोमवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। इस मामले में मृतका की बड़ी बहन और उसके एक रिश्तेदार में अवैध संबंध था जिसे मृतका ने देख लिया था जिसकी वजह से दोनों ने उसे मौत के घाट उतार दिया। शव को ठीकाने लगाने के लिए दोनों ने अपने एक मित्र का भी सहारा लिया। पुलिस ने मृतका की बड़ी बहन और उसके रिश्तेदार के दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।

प्रियंका की मिली थी लाश

15 दिसम्बर को कुसुमचंद यादव के खेत में नग्नावस्था में हत्या कर प्रियंका यादव पुत्री रामसमुझ यादव निवासी रामपुर कला थाना मछलीशहर का शव पाया गया था। इस घटना पर थाना पंवारा में मु.अ.सं. 683/17 धारा 302 भादवि का अभियोग दर्ज किया गया। इस सनसनीखेज वारदात के अनावरण के लिए क्षेत्राधिकारी मछलीशहर के निर्देशन में पुलिस टीम ने सोमवार को वारदात का अनावरण करने में सफलता प्राप्त हुई। वारदात मृतका की बड़ी बहन तथा उसके रिश्तेदार अभियुक्त रमेश यादव निवासी खजुरी थाना मछलीशहर के अवैध संबंधों को मृतका द्वारा देख लेने व घर वालों को बताने की बात करने पर मुल्जिमान रमेश यादव, मृतका की बड़ी बहन द्वारा मिलकर प्रियंका की हत्या कर दी गयी। शव को रमेश ने अपने दोस्त उमाशंकर सरोज उर्फ गड्डे तथा मृतका की बड़ी बहन के साथ मिलकर खेत में फेंककर वारदात को दूसरा रूप देने के लिए शव के कपडे़ फाड़कर रुपये व चप्पल आदि मौके पर प्लांट किया गया। पुलिस ने मृतका की बड़ी बहन और उसके रिश्तेदार के दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। वारदात के अनावरण में सीओ मछलीशहर, थानाध्यक्ष पंवारा तथा थानाध्यक्ष मुंगराबादशाहपुर तथा डाग स्क्वायड फील्ड यूनिट की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

admin

No Comments

Leave a Comment