गाजीपुर। रेल राज्य मंत्री के संसदीय क्षेत्र के ज़मानिया स्टेशन पर अमानवीय  वाक्या सामने आया है। रेलवे ट्रैक पार करते समय ट्रेन के धक्के से घायल एक शख्स प्लेटफार्म पर जिंदगी मौत से लड़ता रहा, लेकिन स्टेशन पर मौजूद रेलवे के अधिकारियों का दिल नहीं पसीजा। आलम ये था कि युवक घंटों दर्द से तड़पता रहा लेकिन रेलवे के कर्मचारियों ने उसे अस्पताल भिजवाने की जहमत नहीं उठाई। इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में गुस्सा देखने को मिला।

ट्रेन की चपेट में आने से घायल हुआ वृद्ध

स्थानीय स्टेशन पर रविवार की सुबह चंदौली के कंदवा निवासी ओमप्रकाश पाण्डेय ट्रेन पकड़ने के लिए जमानियां स्टेशन पहुंचेष ट्रैक पार करते समय वह अचानक पंजाब मेल की चपेट में आ गए। इस दौरान काफी देर के दर्द से झटपटा रहे वृद्ध ओमप्रकाश पाण्डेय लाचार बने रहे। इसके बाद भी रेलवे कर्मी उदासीन बने रहे। उपस्थित यात्रियों ने एम्बुलेंस 108को फ़ोन करके घटना के बारे में अवगत कराया। उसके बाद एम्बुलेन्स द्वारा घायल को नगर के पीएचसी पर भर्ती कराया गया। जहाँ से उसे जिला अस्पताल भेजा गया है। लेकिन रेल राज्य मंत्री के संसदीय क्षेत्र के एक स्टेशन पर ट्रेन के धक्के से घायल वृद्ध को लेकर रेलवे अधिकारी कर्मचारियों की बेपरवाही से लोगों में रोष बना हुआ है।

admin

No Comments

Leave a Comment