वाराणसी। सीएम योगी के आने का प्रोटोकाल तो नहीं आया लेकिन गुरुवार को संभावित आगमन को लेकर सरकारी महकमे सक्रिय हो गये हैं। मंगलवार को डीएम योगेश्वर राम मिश्र सुबह से लेकर देर रात तक महकमों के पेंच कसते रहे। इस दौरान तहसील दिवस में भी हमेशा की तुलना में एक घंटे अधिक वक्त दिया। डीएम ने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जनसामान्य की समस्याओं के निस्तारण में ढिलाई बर्दास्त नही किया जायेगा। उन्होने पिछले सम्पूर्ण समाधान दिवसों पर प्राप्त एवं अब तक लॅिम्बत शिकायती पत्रों का निस्तारण आज ही किये जाने हेतु संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया। शिकायती पत्रों का निस्तारण गुणवत्ता के साथ प्रत्येक दशा में एक सप्ताह के अन्दर सुनिश्चित किये जाने पर विशेष जोर देते हुए अधिकारियों को किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतने की हिदायत दी। उन्होने कहॉ कि शिकायती पत्रों के निस्तारण की गुणवत्ता में कमी अथवा खानापूर्ति मिलने पर जिम्मेदार अधिकारी व कर्मचारी बख्शे नहीं जायेगें।

सीएम के दौरे को देखते हुए सड़कों पर विशेष ध्यान

डीएम ने सीएम योगी के सम्भावित वाराणसी दौरे को ध्यान में रखते हुए अस्पताल, थाना एवं तहसील परिसर सहित अन्य सार्वजनिक स्थानों पर व्यापक सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने के साथ ही सड़को को पूरी तरह गड्ढामुक्त कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होंने संबंधित महकमों को युद्धस्तर पर काम कर सड़को की दशा सुधारने को कहा है।

मेडिकल कैंप में हुई जांच

समाधान दिवस पर तहसील सदर परिसर में नि:शुल्क डायबिटिज, ब्लडप्रेशर आदि की जॉच फरियादियो एवं अन्य लोगो का किया गया। इस मौके पर सदर में एसएसपी आरके भारद्वाज, सीडीओ सुनील वर्मा, सीएमओ डॉ.बीवी सिंह, एसडीएम डा. सुनील वर्मा सहित तीनों तहसील मुख्यालयों पर उपजिलाधिकारी, सीओ के अलावा पुलिस, विद्युत, जलनिगम, स्वास्थ्य, लोक निर्माण विभाग, पंचायत आदि अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहें।

admin

No Comments

Leave a Comment