‘तेज-तर्रार’ अफसर तमाम लेकिन नहीं पा रही अपराध पर ‘लगाम’, फिर हुई दिनदहाड़े लाखों की लूट

आजमगढ़। जिले के एपी प्रो. त्रिवेणी सिंह को प्रदेश के ‘हाइटेक’ अफसरों में माना जाता है। साइबर क्राइम पर उनकी महारत के चलते दूसरे प्रांतों के अफसर सलाह लेते हैैं। इसी तरह डीआईजी सुभाषचंद्र दूबे की छवि भी ‘दबंग’ अधिकारी की रही है। बावजूद इसके जनपद में अपराध का ग्राफ कम होने का नाम नहीं ले रह है। ताजा मामला मुबारकपुर के जमुड़ी में ग्राहक सेवा केन्द्र का है जहां बाइक सवार बदमाशों ने दिन दहाड़े 1.5 लाख रुपये लूट लिये। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी बदमाश तमंचा लहराते हुए फरार हो गए। सूचना मिलते ही एसपी व डीआईजी मौके पर पहुंच गए हैं। मामले की जांच जारी है।

गिरफ्तारी के लिए पांच टीमें गठित

बसगित गांव (जहानागांज) निवासी मिथिलेश दुबे जमुड़ी गांव में जनसेवा केंद्र का संचालन करता है। सोमवार की दोपहर मिथिलेश जनसेवा केंद्र पर बैठा था। इसी दौरान बाइक से दो बदमाश आए और जन सेवा केंद्र में घुसकर मिथिलेश को तमंचा सटा दिया। बदमाश केंद्र में पड़ा 1.5 लाख लूटकर फरार हो गए। बदमाशों को भागता देख स्थानीय लोगों ने बाइक से उनका पीछा किया लेकिन बदमाश फरार होने में सफल रहे। एसपी सिटी पंकज पाण्डेय ने बताया कि बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमों का गठन कर दिया गया है। जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

Related posts