जौनपुर। कप्तान से लेकर थानेदारों को बदलने के बावजूद जौनपुर में अपराध का पारा चढ़ता जा रहा है। अपराधियों के बुलंद हौसले के आगे पुलिस की हनक कमजोर पड़ती दिख रही है। दशा यह है कि केराकत में लगातार दूसरे दिन गोलियों की तड़तड़ाहट से ेलोग सिहर उठे। दबंंगई की पराकाष्ठा का आलम यह था कि सवारी सवार मनबढ़ों ने पहले बाइक में टक्कर और सवारों के सड़क पर गिरने पर गोली मार दी। इतने पर ही सिलसिला थमा नहीं बल्कि राड-हाकी से कई वार किये गये। घायलों का कहना है कि एक सप्ताह पहले मनबढ़ों से पार्किंग को लेकर विवाद हुआ था। स्थानीय लोगों ने पुलिस और एम्बुलेंस को फोन कर घटना की सूचना दी। दोनों को केराकत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया। जहां से वाराणसी ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया। वारदात से भड़के क्षेत्रीय लोगों ने नई बाजार में सड़क जाम कर दिया। कोतवाली पुलिस समेत चन्दवक पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जाम समाप्त कराया। पिछले दो दिन से लगातार हो रही गोली बारी की घटना से जनता में आक्रोश है।
घात लगा कर इंतजार कर रहे थे हमलावर
पतौरा सड़क पर रैकल ब्रम्ह बाबा के पास सफारी और इंनोवा गाड़ी से पहले से ही घात लगाए बदमाश बैठे थे। जैसे ही दूध बेच कर बाइक से जा रहे और तर तरियारी निवासी शिवप्रकाश तथा गंगोली निवासी राजेश नजदीक पहुंचे सफारी गाड़ी ने शिवप्रसाद की गाड़ी में टक्कर मार कर गिरा दिया। गिरते ही बदमाश उतरकर शिवप्रसाद पर गोली चला दिए । संयोग वश गोली उनके बाएं पैर की जांघ में लगी। दूसरी तरफ दो बदमाशों ने राजेश को भी सिर पर हाकी से मारकर गिरा दिया। बदमाशों के हमले को देखकर आसपास टहल रहे कुछ लड़कों और महिलाओं ने शोर मचाया तो बदमाश अपनी अपनी गाड़ियों में बैठकर जौनपुर की ओर भाग गए। गौरतलब है कि मुरलीपुर गांव में गुरुवार को दो लोगों को घर पर चढ़ कर फायरिंग में गंभीर रूप से जख्मी कर दिया गया था।

admin

No Comments

Leave a Comment