मऊ। जिस मन्ना सिंह हत्याकांड को लेकर बाहुबली मुख्तार अंसारी को बसपा से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था उससे बाइज्जत बरी होने पर उनके समर्थक भले ही जश्न मना रहे हो लेकिन पीड़ित परिवार सकते में है। मन्ना के भाई अशोक सिंह का कहना था कि वह इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती देंगे। इस हत्याकांड के कुछ समय बाद गवाह भी गोलियों से छलनी कर दिया गया था जबकि उसे पुलिस की सुरक्षा मिली थी। अशोक का कहना था कि फैसले पर उन्हें कुछ नहीं कहना है। न्यायपालिका पर उन्हें पूरा भरोसा है। दूसरी तरफ मुख्तार के पुत्र अब्बास अंसारी का कहना था कि परिवार के लिए यह बड़ा दिन है जब पापा को न्याय मिला है।
मंदिर की प्रार्थना और नमाजों में मांगी दुआओं ने न्याय दिलाया
ठेकेदार मन्ना सिंह केस से मऊ सदर के बाहुबली विधायक मुख़्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने अदालत और जनता का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि पापा को केस से बरी होने पर हमें बहुत खुशी मिली है। इस खुशी का सबब बने वो लोग जो पापा के लिए मंदिरों में हवन कर पापा के लिए प्रार्थना किये और मस्जिदों में नमाजों में दुआएं करके सलामती की दुआएं मांगीं। अब्बास ने आगे कहा कि हमें अदालत पर हमेशा से पूरा विश्वास है और कुछ नेता जो हर मामले का राजनीतिकरण करके सत्ता का गलत इस्तेमाल करते हैं उनके मुंह पर अदालत का ये फैसला तमाचा है क्योंकि संविधान से बड़ा कोई नहीं हो सकता। अब्बास ने कहा कि हम मऊ,गाजीपुर,घोसी ही नहीं पुरे देश के उन सभी लोगों का दिल से शुक्रिया अदा करते हैं जिन्होंने पापा के लिए दुआएं और प्रार्थनाएं कीं।

admin

No Comments

Leave a Comment