वाराणसी। शहर का बड़ा हिस्सा सोमवार को जाम की चपेट में रहा। शाम को निरीक्षण की खातिर अधीनस्थों की फौज के साथ निकले कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण का भी इससे सामना हुआ। सड़क किनारे खड़े किये गये वाहनों के कारण सड़क पर लगे जाम पर साथ चल रहे सीओ ट्रैफिक को दिखाते हुए कमिश्नर ने पूछा कि इन वाहनों का क्रेन से क्यों नहीं हटाया जाता। सीओ ने क्रेन की अनुपलब्धता का रोना रोया जिसपर कमिश्नर ने नगर निगम के अवस्थापना निधि से पांच क्रेन दिये जाने का निर्देश देते हुए तुरन्त प्रपोजल उपलब्ध कराये जाने के लिए सीओ को निर्देशित किया। गिरीजाघर के पास लगा सिग्नल लाइट मौके पर खराब पाये जाने पर उन्होने तुरन्त ठीक कराये जाने का नगर आयुक्त को डा. नितिन बंसल को निर्देश दिया।
सरकारी विभाग भी कर रहे मनमानी
कमिश्नर ने शहर की सड़को पर आईपीडीएस द्वारा कराये जा रहे भूमिगत वायरिंग कार्य को युद्वस्तर अभियान चलाकर पूरा कराये जाने के साथ ही भूमिगत वायरिंग कार्य के दौरान जगह-जगह निकले तारों को काटकर मौके से हटाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने हथुआ मार्केट के सामने बिना अनुमति टेलीफोन विभाग द्वारा सड़क की खोदाई कर डाले जा रहे भूमिगत वायरिंग को गम्भीरता से लेते हुए मौके पर पड़े वायर को जब्त करने के साथ ही बिना अनुमति सड़क खोदाई किये जाने पर एफआईआर दर्ज कराये जाने का नगर आयुक्त को निर्देश दिया। उन्होने लहुराबीर के पास दुकानदार द्वारा अपने दुकान के सामने किये गये खोदाई को भी गम्भीरता से लेते हुए दुकानदार पर जुमार्ना लगाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने सड़कों पर लगाये गये हेरिटेज पोलों पर कतिपय लोगो द्वारा विज्ञापन बोर्ड लगाये जाने पर गहरी नाराजगी जताते हुए, ऐसे लोगों को चिन्हिंत कर जुमार्ना लगाये जाने का भी निर्देश दिया।
बहुरेंगे चौक व कोतवाली के दिन
निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने थाना चौक एवं कोतवाली के जर्जर भवन को देख नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि इन दोनो थानों के भवनों का सर्वे कराकर यहॉ के भूखण्ड पर थाना के अलावा अन्य शेष भूमि पर नीचे दो मंजिला मल्टी पार्किग एवं तीसरे मंजिल पर पुलिस जनों के बैरक हेतु आवासीय भवन बनाये जाने का प्रपोजल स्मार्ट सिटी योजना के तहत बनाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने सन् 1904 के बने चौक थाना एवं इतने ही पुराने कोतवाली के मुख्य भवन के हेरिटेज को भी प्रपोजल में ध्यान रखे जाने पर जोर देते हुए कहॉ कि मुख्य भवन का डिजाइन हुबहू बना रहे। निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त के अलावा पीडब्ल्यूडी, आईपीडीएस आदि विभागो के अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment