कलेक्टर-कप्तान का निरीक्षण था ‘औचक’ इसी खातिर मुलाकातियों के पास सामान मिला ‘चौचक’, लगायी फटकार और कैंटीन के औचित्य पर सवाल

वाराणसी। प्रदेश भर में बरती जा रही सतर्कता के क्रम में मंगलवार को डीएम सुरेन्द्र सिंह ने म् जिला जेल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जेल बन्दियों से मुलाकात करने वाले मुलाकातियों एवं उनके साथ लाये गये सामान का भी उन्होंने जांच की। बाहरी सामान मात्रा से अधिक ले आने पर डीएम भड़क गये। नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि जेल के कैन्टीन से ही सामान की बिक्री की जाय तथा उसकी मात्रा निर्धारित शासन के निर्देशों के अनुरूप ही हो। जेल परिसर में एक वृद्ध आदमी द्वारा ठेला लगाकर नमकीन-बिस्कुट आदि बेचते हुए पाये जाने पर चेतावनी दी कि भविष्य में यदि परिसर के अन्दर ठेला वगैरह पाया जाता है तो उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगा तथा इस संबंध में जेल अधीक्षक को भी निर्देशित किया।

जरूरत का ही मंगाये सामान, सफाई का हो ध्यान

डीएम ने जिला जेल के गेट पर बने रूम जहॉं से मुलाकातियों को आनलाइन पर्ची जारी होता है वहां पर निरीक्षण करते हुए कहा कि इसके लिए प्राइवेट बिजली का कनेक्शन लिया जाय। जेल में डम्प पड़े साबुन एवं सर्फ के पैकेट को हटवाने तथा इसकी मात्रा कम करने हेतु जेल अधीक्षक को निर्देशित किया। स्पष्ट शब्दों में कहा कि जितनी जरूरत हो उतना ही मंगाया जाय। बैरक में जगह-जगह साफ-सुथरे डस्टबिन रखवाने तथा परिसर की साफ-सफाई कराने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान एसएसपी आनन्द कुलकर्णी, एडीएम सिटी विनय कुमार सिंह, जेल अधीक्षक आदि अधिकारी उपस्थित रहे।

Related posts