जौनपुर। विधानसभा चुनाव से पहले कानून-व्यवस्था को लेकर बीजेपी तंज कसती थी लेकिन सत्ता हासिल करने के बाद हालात बदतर होते जा रहे हैं। ताजा ममला केराकत कोतवाली के मुरलीपुर गांव का है जहां पूर्व प्रधान राम अवध यादव के पुत्र उमेश (25) और सर्वेश (22) पर गुरुवार की अल सुबह फिल्मी तरीके से गोलियां बरसायी गयी। कोतवाली से महज आधा किलोमीटर दूरी पर सात बाइक पर एक दर्जन से अधिक हमलावर पहुंचे और घर में घुस कर वारदात को अंजाम दिया। गोलियों की तड़तड़ाहट गूंजने पर ग्रामीणों ने ललकारते हुए घेराबंदी की। खुद को घिरता देख बदमाशों ने बाइक छोड़कर भागने की कोशिश की लेकिन एक ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गया। बदमाशों की बाइक को कूंच दिया गया। उमेश व सर्वेश को गंभीर अवस्था में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केराकत में भर्ती कराया गया जहां उनकी स्थिति नाजुक देख डॉक्टर ने उन्हें ट्रामा सेंटर वाराणसी रेफर कर दिया।

269
सूचना पर भी नहीं पहुंची पुलिस, न घायलों को भर्ती कराया
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मौके पर सात मोटर साइकिल से दर्जनों की संख्या में लोग पहुंचे और ताबड़तोड़ उनके ऊपर हमला बोल दिया जिसमें उमेश, सर्वेश को गोली लग गयी। ग्रामीणों की घेराबंदी देख बदमाश अपनी मोटरसाइकिल छोड़ फरार हो गए लेकिन एक पकड़ा गया। बदमाशों ने करीब आधा दर्जन से अधिक राउंड फायरिंग की। मौके से बदमाशों की सात मोटरसाइकिल बरामद हुई। पुलिसिंग का हाल यह था कि सूचना देन ेपर भी फोर्स नहीं पहुंती और ग्रामीण खुद घायलों को पीएचसी से रेफर करा कर ट्रामा सेंटर ले गये। देर शाम हमलावरों की धर-पकड़ तो दूर पुलिस यह भी बताने की स्थिति में नहीं थी कि वारदात का सबब क्या है। पुरानी रंजिश सरीखे जुमले दोहराये जा रहे थे।

admin

No Comments

Leave a Comment