भांपकर चढ़े सीजेआई के चढ़े‘तेवर’, कचहरी की सुरक्षा देखने कप्तान के संग निकले कलेक्टर

वाराणसी। पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने कचहरी परिसर में हुई हिसंक भिडंत को लेकर तल्ख टिप्पणी की थी। उन्होंने सुरक्षा चाक-चौबंद करने की खातिर सीआरपीएफ की अलग से बटालियन तक की बात कह दी थी। इसके बाद से सभी अपने जिला न्यायालय की सुरक्षा को लेकर गंभीर हो चुके हैं। डीएम कौशल राज शर्मा ने शनिवार को एसएसपी प्रभाकर चौधरी के साथ जिला जज न्यायालय परिसर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सभी प्रवेश द्वारों पर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के लिए जानकारी प्राप्त की। परिसर की चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए बाउण्ड्रीवाल को ऊंचा उठाने की आवश्यकता बतायी गयी। निरीक्षण के बाद जिला जज उमेशचंद्र शर्मा के साथ उनके सभागार में न्यायालय परिसर की सुरक्षा सम्बन्धी गहन समीक्षा की गई।

इन बिन्दुओं पर दिया गया जोर

डीएम ने परिसर के प्रवेशद्वारों की सुरक्षित इंट्री तथा जज, वकील, मुक्किल, न्यायालय कर्मियों, वादकारियों के प्रवेश के लिए प्रवेश द्वारों का निर्धारण किये जाने पर जोर दिया। सभी प्रवेश द्वारों पर मौजूदा सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के लिए जानकारी प्राप्त की। जिला जज ने भी सुरक्षा को जो सुझाव दिये उसे गंभीरता से लिया गया। निरीक्षण के दौरान एडीएम सिटी विनय कुमार सिंह, एसपी सिटी दिनेश सिंह व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Related posts