गाजीपुर। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद अपराधियों के खिलाफ चलाए गए अभियान में गाजीपुर पुलिस अपने एसपी यशवीर सिंह के तेवर देख एक्शन में आ गयी है। लंबे समय के बाद पुलिस की किसी अपराधी से आमने सामने की मुठभेड़ हुई है। बुधवार की देर रात उचौरी गांव (खानपुर) के पास सदर कोतवाली के सुआपुर गांव के रहने वाले ओमप्रकाश उर्फ बख्शी बिंद अपने दो साथियों के साथ इस गांव में पुलिस की घेराबंदी देखकर फायििरग कर भागने की कोशिश की। पुलिस ने जबाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की। फायरिंग के दौरान एक बदमाश के पैर में गोली लग गई। घायल बदमाश की शिनाख्त ओमप्रकाश उर्फ बख्सी बिन्द के रूप में हुई। ओमप्रकाश को गिरफ्तार कर लिया जबकि उसके अन्य दो साथी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब रहे। घायल बदमाश ओम प्रकाश उर्फ बख्शी बिंद को पुलिस जिला अस्पताल लाई और उसका इलाज कराकर वार्ड में शिफ्ट कराने के बजाय अस्पताल के पुलिस चौकी में एक दरोगा की देखरेख में इलाज किया जा रहा है।

चेकिंग में मिली पुलिस को सफलता

एसपी ने बताया कि रूटीन चेकिंग के दौरान बाइक सवार तीन युवक खानपुर थाना इलाके के उचुरी गांव के पास से गुजर रहे थे। सन्देह होने पर पुलिस ने युवको को रोकने का प्रयास किया तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिग करने लगे। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की। फायरिंग के दौरान एक बदमाश ओमप्रकाश उर्फ बख्सी बिंद को पैर में गोली लगी है। उसको पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जबकि दो अन्य बदमाश आशीष पासी और आशीष यादव मौके से फरार हो गए। पुलिस और बदमाशो के बीच मुठभेड़ में बदमाश द्वारा पुलिस पर गोली चलाई गई । बदमाशों की गोली से बुलेटप्रूफ जैकेट की वजह से पुलिस कर्मी बालबाल बच गया।

admin

No Comments

Leave a Comment