वाराणसी में रेलवे ट्रैक पर मिली युवक की लाश, रात में परिजनों से लगाई थी जान की गुहार

वाराणसी। ‘पापा मुझे 10 लोगों ने घेर लिया , मेरा बच पाना मुश्किल है’। वाराणसी के फूलपुर के रहने वाले शुभम यादव ने गुरुवार की देर रात कुछ इसी तरह का मैसेज अपने परिजनों को किया था। सुबह जब परिवारवालों ने उसकी तलाश शुरू की तो रेलवे ट्रैक के किनारे उसकी बॉडी मिली। सनसनीखेज हत्याकांड के बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है । पुलिस मामले को सुसाइड बता रही है लेकिन शुभम के मैसेज और मौका ए वारदात पर मिले सबूतों ने मामले को उलझा दिया है।
रात डेढ़ बजे आया मैसेजखालिसपुर रेलवे स्टेशन के समीप रेलवे ट्रैक पर 21 वर्षीय युवक की लाश मिलने से सनसनी फ़ैल गयी। मौके पर पहुंची पुलिस और जीआरपी ने शिनाख्त शुरू की तो कुछ ही देर में युवक की शिनाख्त शुभम यादव निवासी सेह्मलपुर के रूप में हुई। युवक गुरुवार की रात शादी समारोह में गया था और रात भर वापस नहीं लौटा। परिजनों ने बताया कि देर रात उसके मोबाइल से एक मैसेज आया था कि 10 लोग उसे घेरे हुए हैं और सुबह उसकी लाश मिली है। वहीं पुलिस इसे सुसाइड मानकर तफ्तीश में लग गयी है।
इस सम्बन्ध में युवक शुभम के परिजनों ने बताया कि शुभम घर से दो किलोमीटर दूर क्षमा यादव के घर शादी समारोह में गया था। रात ग्यारह बजे उसका फोन आया तो शुभम ने कहा था कि आप लोग परेशान न होना थोड़ी देर में आयेंगे। उसके बाद रात डेढ़ बजे उसके मोबाइल से मैसेज आया कि मुझे दस लोगों ने घेर लिया है और वो मुझे मार डालेंगे। तभी से हम लोग उसकी खोजबीन में लगे हुए थे और सुबह लाश मिली।
हाथ पर लिखी इबारत कर रही है हत्या की ओर इशारा
मौके पर पहुंची पुलिस ने जब लाश की तलाशी लेनी शुरू की तो शुभम का मोबाइल और घड़ी मिली और साथ में उसके बाएं हाथ और शर्ट पर लिखा हुआ पाया गया। शुभम के हाथ पर लिखा हुआ है कि ‘मुझे कुछ लोग गाड़ी में बंद कर दिए हैं, ये मेरी हत्या कर देंगे। मैं बस में बंद हूँ। इसके अलवा मृतक की शर्ट पर लिखा है कि ये बीडीओ कैसे बन गया। मृतक ने हाल ही में बीडीओ का एग्जाम दिया था और उसका पेपर बहुत अच्छा हुआ था। फिलहाल पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए हत्या और आत्महत्या दोनों पहलूओं पर जांच कर रही है।

Related posts