बलिया। बांसडीहरोड-सहतवार मार्ग पर स्थित छाता गांव निवासी सदानंद गुप्ता के घर सामने खेल रहे 10 वर्षीय मल्लू गुप्ता को गुरुवार की दोपहर तेज रफ्तार स्कार्पियो ने रौंद दिया। कुछ मिनटों पहले खेल रहे मासूम का शव लोथड़ों में देख लोगों का खून खौल उठा। भीड़ की घेराबंदी देखकर स्कार्पियो खड़ा कर ड्रइवर मौके से भाग निकला। आक्रोशित लोगों ने स्कार्पियों को आग के हवाले कर दिया। काफी देर तक स्कार्पियों धू-धूकर जलती रही और किसी की पास जाने की हिम्मत नहीं हुई। इस बीच आक्रोशित लोगों ने सड़क पर शव रख बांसडीहरोड-सहतवार मार्ग को जाम कर दिया। मशक्कत के बाद पुलिस ने समझा कर शांत कराया।

छुट्टी के चलते घर के सामने खेल रहा था मासूम

ठंड के चलते स्कूलों में छुट्टी थी जिससे मल्लू गुप्ता घर पर था। मल्लू सड़क पार कर उस पार खेलने जा रहा था। इसी बीच पीछे से तेजगति से आ रही स्कार्पियों ने उसे रौंद दिया। इसके बाद मुवावजा व कार्रवाई की मांग को लेकर सड़क जामकर बैठ गए। जाम की सूचना मिलते ही बांसडीहरोड एसओ सत्येंद्र राय, बांसडीह सीओ अशोक सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए और जामकर्ताओं को बहुत समझाने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने उनकी एक न सुनी। कार्रवाई का आश्वासन देकर किसी तरह पुलिस ने ग्रामीणों को समझाकर शांत कराया।

admin

No Comments

Leave a Comment