टीचर मां के संग किशोर बेटे को घर में घुसकर गोली से छलनी किया, दिन दहाड़े हुई वारदात लेकिन पुलिस नहीं ढूंढ सकी सुराग

मऊ। प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर सीएम से लेकर डीजीपी तक आंकड़ों का हवाला देकर दुरुस्त बताने की कोशिश करते हंै लेकिन जमीनी हकीकत इतर है। बदमाशों के बुलंद हौसले मंगलवार को 10.30 बजे मांदीसिपाह बाजार (दोहरीघाट) में देखने को मिले जहां दिनदहाड़े अज्ञात बदमाशों ने घर में घुसकर सरकारी स्कूल की शिक्षिका रेखा राय (40) के संग बेटे हर्षित राय (14) की गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया। विजयादशमी के दिन हुई दुस्साहसिक वारदात से पूरे जनपद में सनसनी फैल गई। मां-बेटे की निर्मम हत्या ने बाजार और गांव ही नहीं बल्कि समूचे जिले को झकझोर कर रख दिया है। घटना को लेकर चहुंओर जबरदस्त गुस्सा व शोक व्याप्त है। शोक में जहां मांदीसिपाह बाजार बंद रही वहीं स्थानीय मुहम्मदाबाद सिपाह गांव में लगने वाला दशहरा मेले का आयोजन भी नहीं हुआ।

एक दिन पहले ही अयी थी शिक्षिका

बताया जाता है कि मृतका बलरामपुर जनपद में सहायक अध्यापक के रूप में तैनात थी और सोमवार की रात में ही दशहरे की छुट्टियों में घर आई थीं। परिवार ने किसी तरह की रंजिश से इनकार किया हैै। हर कोई लोमहर्षक घटना के कारणों को जानने के लिए बेचैन दिखा लेकिन सुलगते सवालों का कोई जबाव पुलिस के पास नहीं था। शवों को देखकर मृतका का पति और मृतक का पिता चंद्रशेखर राय बब्बू , श्वसुर और दादा कर्मशंकर राय, सासु और दादी कमलावती देवी सेवानिवृत्त शिक्षिका तथा मृतका का छोटा पुत्र अंश राय दहाड़ें मार कर रो रहे थे। परिजन बार-बार बेहोश होते, तो वहां मौजूद महिलाएं व अन्य गांववासी उनके मुंह पर पानी के छींटे देकर होश में लाने का प्रयास करते। विलाप करते परिजनों का रोते-रोते यूं बुरा हाल था कि उनकी आंखें पथरा जाती थीं। मौके पर इलाके सहित दूर-दराज तक के सैकड़ों की संख्या में संवेदना में पहुंचे लोग हतप्रद थे।

पिस्तौल काा किया इस्तेमाल

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे एसपी अनुराग आर्य का कहना है कि उन्होंने घटनास्थल पर जाकर अपनी टीम के साथ एक-एक बिंदु का जांच किया है। मौके पर खोखे बरामद हुए हैं जिससे आशंका जतायी जा रही है कि पिस्तौल का इस्तेमाल किया गया है। पीड़त परिजनों एवं स्थानीय लोगों द्वारा कोई घटना से जुड़ी अभी विशेष सूचना नहीं मिली है। डाग स्क्वायड सहित पुलिस की टीम विभिन्न बिंदुओं पर जांच कर रही है। शीघ्र ही घटना में शामिल दोषियों को पकड़ा जाएगा।

Related posts