वाराणसी। प्रदेश में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार स्वाति सिंह ने आज प्रदेश में कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर अपनी सरकार का बचाव करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला। स्वाति सिंह ने कहा कि लॉ एंड आर्डर पर हमने 100 परसेंट काबू नहीं पाया है लेकिन पहले से क्राइम कम हुआ है। साफ है कि पिछली सरकारों से चीजे बेहतर हैं। विपक्ष के पास सरकार को घेरने का कोई मुद्दा नहीं है इसलिए हर पार्टी भाजपा को बदनाम करने की कोशिश कर रही हंै लेकिन जो लोग ऐसा कर रहे हैं उन्हें अपने सरकार के कार्यकाल के दौरान हुई चीजों को देखना चाहिए। जिन्ना के सवाल पर कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नही है इसलिए वो कोई भी मुद्दा लाकर कूद जाते हैं।

सपा-बसपा तो मौकापरस्त पार्टियां

स्वाति सिंह से जब पूछा गया कि शिवपाल सिंह यादव फिर से सपा के साथ खड़े होते नजर आ रहे हैं तो उनका कहना था कि भाजपा की ताकत से सभी लोग डर गए हैं। सपा और बसपा बहुत ही मौकापरस्त पार्टियां हैं। यह लोग मौके का फायदा उठा कर भाजपा की बढ़ रही ताकत को कम करने के लिए एकजुट हो रहे हैं। वही मंत्री स्वाति सिंह ने कैराना और नूरपुर उपचुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी के जीत का दावा किया और कहा कि 2017 विधानसभा चुनाव में भी लोगों को डाउट था कि भारतीय जनता पार्टी नहीं जीतेगी लेकिन लोगों का डाउट इस जीत के बाद खत्म हो गया और कुछ ऐसा ही कैराना और नूरपुर उपचुनाव में भी होगा।

कमजोर तबकों के लिए लायी योजनाएं

राज्यमंत्री ने भाजपा सांसद सावित्रीबाई फूले और मंत्री ओमप्रकाश राजभर की तरफ से दलित मुद्दे को दबाने और आरक्षण खत्म किए जाने के बयान पर कहा कि यह किसी की पर्सनल राय हो सकती है। भाजपा ऐसा कुछ भी नहीं कर रही है। संविधान के अनुरूप ही चीजों को किया जा रहा है। कई बड़ी योजनाएं लाई गई हैं जिसका सीधा फायदा सबसे कमजोर तबके को मिल रहा है और विपक्ष सिर्फ बेवजह के मुद्दों को तूल दे रहा है। इलाहाबाद में वकील हत्याकांड के सवाल पर कहा कि ऐसा नही कि हम गारंटी ले रहे है कि हमने 100 परसेंट चीजों को कंट्रोल कर लिया है। ऐसी घटना दुखद है और सरकर जीरो टॉलरेंस पर कार्रवाई करेगी। मुझे लगता है यूपी में महिलाएं सुरक्षित हैं। लेकिन विपक्ष जानबूझकर ये मुद्दे उठा रहा है, क्योंकि वो ऐसी सरकार थी जिसमे न तो लॉ एंड आर्डर था और भ्रष्टाचार भी कंट्रोल है, क्योकि उनकी सरकार में ऐसा कुछ भी नही हो सका।

admin

No Comments

Leave a Comment