सुलगते सवाल छोड़ गयी पीसीएस अधिकारी (ईओ) की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखे सवालों का जबाव ढूंढ रही पुलिस

बलिया। कोतवाली क्षेत्र के आवास विकास कॉलोनी में मनियर नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने सोमवार की रात पंखे के हुक से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतरवाया और कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण के लिए भेज दिया। हालांकि एस पी देवेन्द्र नाथ का कहना है कि मौत का कारण क्या है इसकी जांच की जा रही है। तलाशी के दौरान बरामद हुए सुसाइड नोट में लिखा है कि ‘वह दिल्ली, मुंबई से बचकर बलिया चली आई। लेकिन यहां उन्हें रणनीति के तहत फंसाया गया है, इससे वह काफी दुखी हैं। लिहाजा उनके पास आत्महत्या करने के सिवाय कोई विकल्प नहीं है।’ बहरहाल पुलिस ने इसे जांच में शामिल किया है और तफ्तीश कर रही है।

दो साल पहले किया था कार्यभार ग्रहण

मूल रूप से गाजीपुर जिले के थाना भांवर कोल की रहने वाली मणि मंजरी राय ने दो साल पहले मनियर नगर पंचायत में अधिशासी अधिकारी के पद पर कार्यभार ग्रहण किया था। सुसाइड नोट में लिखे आरोपों के मुताबिक अधिशासी अधिकारी को किसने फंसाया? इसमें कौन-कौन लोग हैं? पुलिस अब यह पता लगाने का प्रयास कर रही है। मामले की छानबीन जारी है। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी देवेंद्रनाथ, एएसपी संजय कुमार, सीओ सिटी अरुण कुमार सिंह, कोतवाल विपिन सिंह समेत उच्चाधिकारी मौके पर पहुंच गए।

Related posts