जौनपुर। सूबे में योगी आदित्यनाथ की सरकार विकास की गति पर दूसरे नम्बर की गेयर में चल रही है। इन्होंने 444 वर्ष पूर्व जो शहर इलाहाबाद के नाम से जाना जाता था उसका नाम प्रयागराज कर दिया है। मुंबई देश की आर्थिक राजधानी बनी है तो इसमें उत्तर प्रदेश के लोगों का बड़ा सहयोग है। अम्बरपुर बेलवां के एक कालेज के परिसर में गुरुवार को प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने छात्र-छात्राओं व जनता को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र में अटल बिहारी वाजपेई की सरकार थी तो सर्व शिक्षा अभियान का आंदोलन चलाया गया था। उसी अभियान के तहत केंद्र की भाजपा सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान चला रही है।

छात्रों के लिए मांगना न पड़े आरक्षण

महामहिम ने आंकड़ों के जरिये बताया कि पिछले साल 26 महाविद्यालयों के दीक्षांत समारोह में 51 प्रतिशत लड़कियों ने उपाधि हासिल की थी। इस वर्ष 66 प्रतिशत उपाधि हासिल की है जबकि छात्र शिक्षा में पीछे जा रहे हैं। चुटकी लेते हुए कहा कि लग रहा है कि एक समय ऐसा आएगा जब छात्रों के लिए आरक्षण मांगना पड़ेगा। छात्र-छात्राओं का धर्म है लगन से पढ़ाई करें पर किताबी कीड़ा ना बने और अपने शरीर का भी ध्यान रखें और व्यायाम करें। जीवन में सफलता के लिए छात्र-छात्राओं को चार सूत्रीय सुझाव भी दिए। पहला आप मुस्कुराते रहो और आगे जाओगे, दूसरा कोई काम अच्छा करता है तो कहना सीखो तुम अच्छा काम किया है तो सब का सहयोग मिलेगा, तीसरा आप किसी की अवमानना करोगे तो आपकी प्रगति नहीं होगी, आप किसी की अवमानना करोगे तो आसानी से वह नहीं भूल सकता इसलिए तुम तरक्की नहीं करोगे, चौथा अधिक अच्छा कैसा हो इसका विचार होना चाहिए, भाग बैठने पर बैठता है और खड़ा होने पर खड़ा होता है सोने पर सो जाता है चलने पर चलता है जीवन चेतना जगत बन्धु होता है इसलिए चलते रहिए-चलते रहिए।

पुलिस अधिकारियों को लगायी फटकार

राज्यपाल ने अपने भाषण के दौरान दो बार पुलिस अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। स्पष्ट शब्दों में कहा कि तुम लोग जोर-जोर से बातें कर रहे हो जिससे मेरा भाषण डिस्टर्ब हो रहा है। इसके बाद उनके सुरक्षाकर्मियों ने तत्काल ड्यूटी पर लगे पुलिस वालों को चेतावनी दी।

admin

No Comments

Leave a Comment