श्वसुर की मौत पर संंवेदना व्यक्त करने आ रहे बेटी-नाती हुए हादसे का शिकार, दामाद-नतिनी का दशा गंभीर

मीरजापुर। इन दिनों सड़क हादसों का जिक्र होते ही जेहन में यही कौंधता है कि कोई प्रवासी शिकार बना होगा लेकिन लहुरियादह भैसोड वलाय पहाड (हलिया) के पास दुर्घटना की कुछ अलग ही कहानी रही। शनिवार की सुबह पौने नौ बजे मध्यप्रदेश की ओर से आ रही इंडिगो गाडी अनियंत्रित होकर टकरा गयी जिसमें उसमें सवार युवक समेत महिला की घटनास्थल पर मौत हो गई। हादसे में चालक व एक किशोरी घायल हो गई। दुर्घटना की सूचना पर मौके पर पंहुची पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए भेजा। बाद में डीएम-एसपी ने भी मौका मुआयना कर अधीनस्थों को आवश्यक निर्देश दिये।

गाजीपुर जा रहा था परिवार

मूलरूप से लालगंज अझारा (प्रतापगढ)Þ निवासी राम सिंह (50) मध्यप्रदेश के शहडोल में अमिलाई पेपर मिल में कार्य करते थे। परिवार के साथ शहडोल में रहने वाले राम सिंह ससुराल गाजीपुर में श्वसुर की मृत्यु की सूचना पर अपनी निजी कार इंडिगो से पत्नी विभा सिंह (45), पुत्र अमरेश सिंह (22) व पुत्री अंशिका (12)के साथ गाजीपुर जा रहे थे। कार जैसे ही भैसोड वलाय पहाड लहुरियादह के पास पंहुची थी कि स्टेयरिंग लाक हो जाने के कारण सड़क से उतकर पहाडी में टकरा गई। हादसे में पुत्र अमरेश सिंह व पत्नी विभा सिंह की मौके पर मौत हो गई वही कार चला रहे राम सिंह गंभीर रूप से तथा बेटी अंशिका मामूली रुप से घायल हो गई। ग्रामीणों की सूचना पर तत्काल एसडीएम लालगंज शिव प्रसाद व प्रभारी निरीक्षक अमित सिंह मौके पर पंहुचकर घायलों को उपचार के लिए नया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ड्रमंडगंज में लेकर आये। यहां प्राथमिक उपचार के बाद राम सिंह को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। मृतकों के शव को पुलिस ने कब्जे में लेते हुए परिजनों को सूचना देकर अग्रिम कार्यवाही आरम्भ कर दी।

Related posts