सिरफिरे ने ‘प्रेमिका’ का गला रेतने संग चार पर चाकू से किया जानलेवा हमला, मशक्कत के बाद पुलिस ले गयी साथ

मऊ। शहर कोतवाली के विश्वनाथ पुरा मोहल्ले में रविवार की दोपहर सिरफिरे आसिफ ने घर में घुसने के बाद 18 वर्षीया युवती का गला रेतना शुरू कर दिया। बचाव की गुहार सुनकर पहुंची युवती की दो बहने, मां व एक भाई पर भी चाकू से वार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। आसपास के लोगों को जुटता देख आसिफ ने भागने की कोशिश की लेकिन उसे दौड़ा कर दबोच लिया गया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन आक्रोशित भीड़ के चंगुल से छुड़ाने में खासी मशक्कत करनी पड़ी। लोगों की नाराजगी खासी थी लेकिन किसी तरह से पुलिस आरोपित को वहां से लेकर थाने आयी। युवती को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत चिन्ताजनक बनी है।

बातचीत के दौरान बन गया ‘हैवान’

रघुनाथपुरा मुहल्ला (दक्षिण टोला) निवासी आसिफ का जख्मी युवती से प्रेम-प्रपंच चल रहा था। आसिफ निकाह करना चाहता था लेकिन युवती के घरवाले कहीं दूसरी जगह रिश्ता तय कर चुके थे। इसीको लेकर वह रविवार दोपहर तहरीबन साढ़े तीन बजे युवती के घर पहुंचा था। दोनों आपस में बात कर रहे थे कि किसी बात पर भड़क कर आसिफ ने युवती को पटक कर चाकू से जिबह करना शुरू कर दिया। गर्दन कटने के साथ युवती वहीं गिर गयी और बेतहाशा खून बहने लगा। बचाव की गुहार सुन परिजन आए और आसिफ को पकड़ने लगे लेकिन हाथ में लिये चाकू से उसने इन पर भी हमला कर दिया।

भीड़ छोड़ने के लिए नहीं थी राजी

शोर-गुल सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे जिसके बाद आफिस ने भागने की कोशिश की। घरवालों के शोर मचाने पर अगल-बगल के लोगों ने उसको न सिर्फ दौड़ाकर पकड़ा बल्कि जमकर पीटना श्ुरू कर दिया। किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी। पूर्व नपाध्यक्ष अरशद जमाल भी एसओ निहार नंदन के साथ पहुंचे। पुलिस ने युवक को हिरासत में ले लिया। आक्रोशित भीड़ के चंंगुल से आरोपित को छुड़ाने के बाद किसी तरह पुलिस थाने ले जा पाई।

Related posts