वाराणसी। तीन दशक से अधिक पुराने सिकरौरा कांड में गवाही देने के लिए सकलडीहा के सपा विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव को विशेष न्यायाधीश (गैंगस्टर एक्ट) राजीव कमल पांडेय की अदालत ने तलब किया है। विधायक की तरफ से कोर्ट में प्रार्थनापत्र दिया गया है जिसमें उन्होंने जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग की है। कोर्ट ने प्रार्थनापत्र को गंभीरता से लेते हुए उनकी मौजूदा सुरक्षा के बाबत जानकारी लेने के बाद पर्याप्त सुरक्षा के बीच गवाही के लिए प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। गौरतलब है कि प्रभुनारायण सिंह यादव सिकरौरा कांड की तहरीर लिखने वाले हैं।

चार मई को होगी अगली सुनवाई

वहीं सोमवार को अभियोजन पक्ष के पांचवे गवाह गुलाब का बयान व जिरह की कार्रवाई पूरी हुई। अदालत ने इस मामले में अगले गवाह के रूप में प्रभु नारायण सिंह को चार मई को अदालत में हाजिर होने के लिए सम्मन जारी की है। मुकदमे की सुनवाई के दौरान शिवपुर सेंट्रल जेल से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में लाकर आरोपी एमएलसी बृजेश सिंह को अदालत में पेश किया गया था। कचहरी में डीजीपी के आने और बृजेश सिंह की पेशी को पुलिस परिसर में काफी मुस्तैद थी।

admin

No Comments

Leave a Comment