वाराणसी। सौभाग्य योजना में इस वर्ष एक लाख विद्युत कनेक्शन दिए जाने का लक्ष्य निर्धारित है जो हर हाल में पूरा होना चााहिये। प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा विभाग डा.रजनीश दुबे गुरुवार को कमिश्नरी सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा के दौरान जन समस्याओं पर बिना कार्रवाई के निस्तारण दिखाने वाले अधिकारियों को सुधर जाने की चेतावनी देते हुए कहा कि उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाही की जाएगी। उप निदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, अधिशासी अभियंता सिंचाई और उप निदेशक मंडी को कार्यों में शिथिलता पर चेतावनी देते हुए अपनी कार्यसंस्कृति में सुधार लाने का निर्देश दिया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हरहुआ के चिकित्सा अधिकारी को वहां से हाटने के लिए निर्देशित किया। मुसहर परिवारों में कोई परिवार आवास विहीन न रहे, यह हर हाल में शत-प्रतिशत सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। आईपीडीएस योजना से 15 प्रतिशत लाइन लॉस काम हुआ है और शहर में एलईडी लाइट लगने से विद्युत बिल में चालीस प्रतिशत की बचत होने की बात भी उन्होंने कही। साथ ही 15 अगस्त पर 8 लाख से अधिक पौधे लगाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने गांव और कस्बों में लगने वाले हाट बाजार को किसान बाजार के रूप में विकसित किये जाने पर विशेष जोर दिया। बताया गया कि सामूहिक विवाह योजना में सवा दो करोड़ रुपये उपलब्ध है। उन्होने इसमें पात्रों का चयन कर विवाह योजना के कार्यक्रम को वृहत स्तर पर कराए जाने का निर्देश दिया।

जून तक पूरा करना है जौनपुर एमएचआई

प्रमुख सचिव ने जौनपुर एनएचएआई को जून 2019 तक हर हाल में पूरा कर लिए जाने के लिए सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। साथ ही उप निदेशक कृषि को निर्देशित करते हुए कहा कि वे कैम्प लगाकर केसीसी बनवाएं। गोइठाहां सॉलिड वेस्ट प्लांट को 2 अक्टूबर तक हर हाल में शुरू कराए जाने के लिए निर्देश दिए। बैठक में कर करेत्तर, तहसील समाधान दिवस, आईजीआरएस, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल अमृत योजना, स्मार्ट सिटी, स्वच्छ भारत मिशन, प्राइमरी स्कूलों में पोषक वितरण आदि की विस्तार से समीक्षा की गई। बैठक में डीएम सुरेन्द्र सिंह, सीडीओ गौरांग राठी सहित पीडब्ल्यूडी व नगर निगम के अधिकारी मौजूद थे।

admin

No Comments

Leave a Comment