अयोध्या का फैसला आने सेपहले चाक-चौबंद की गयी श्री काशी विश्वनाथ की सुरक्षा, आला अफसरों ने निरीक्षण के संग दिये निर्देश

वाराणसी। अयोध्या में श्री रामजन्मभूमि को लेकर दशकों से चल रहे विवाद का निस्तारण होने के करीब है। सुप्रीम कोर्ट अगले सप्ताह इसका फैसला सुना सकता है। इसे लेकर पूरे देश में सतर्कता बढ़ा दी गयी है। प्रदेश के हर संवेदनशील स्थान को लेकर एहतियात बरता जा रहा है। इसी क्रम में श्री काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एडीजी ब्रजभूषण, कमिश्नर दीपक अग्रवाल सहित कई आला अधिकारियों ने शुक्रवार को निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद उन्होंने अधिकारियों से सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चर्चा की। इस दौरान श्री काशी विश्वनाथ धाम के लिए खरीदे गए भवनों और उनके हुए ध्वस्तीकरण के बाद खाली पड़े स्थान पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के लिए लोहे और स्टील की बैरिकेडिंग और पुलिस फोर्स तैनातकरने का निर्देश अधिकारियों ने दिये।

गलियों में लगी फोर्स संग वहां के उपकरण परखे

इस दौरान अधिकारियों की टीमने मंदिर परिसर के चारों ओर से जुड़ने वाली गलियों का भी निरीक्षण किया। साथ ही फोर्स की तैनाती और वहां लगे सुरक्षा व्यवस्था के उपकरणों की भी जांच की। बैठक में आईजी विजय सिंह मीना, डीएम कौशल राज शर्मा, एसएसपी प्रभाकर चौधरी, सीआरपीएफ के कमांडेंट एनपी सिंह, एसपी सुरक्षा ज्ञानवापी माधव मिश्रा, एडीएम सिटी विनय कुमार सिंह, एडीएम अतुल कुमार, डिप्टी कलेक्टर विनोद सिंह, तहसीलदार विनय राय सहित बड़ी संख्यामें मजिस्ट्रेट और अधिकारी उपस्थित रहे।

Related posts