बलिया। सिकन्दरपुर कस्बे में रविवार की शाम ताजिया जुलूस के दौरान एपहले हुए विवाह को लेकर अफवाह ने दो वर्ग को आमने-सामने कर दिया। दोनों पक्षों में पहले तो जमकर पथरानव हुआ जिसके बाद आगजनी और दुकानों में लूटपाट शुरू हो गयी। अचानक हुए घटनाक्रम के बाद पुलिस ने लाठी पटक कर भीड़ को खदेड़ने के साथ आंसूगैस के गोले छोड़े। मामले को साम्प्रदायिक रूप लेते देख कमिश्नर रवीन्द्र नायक और आईजी विजय भूषण मौके पर पहुंचे। आसपास के जनपदों की फोर्स के संग एक कंपनी पीएसी मौके पर लगायी गयी है। कस्बे में अघोषित कर्फ्यू की स्थिति बनी है लेकिन प्रशासन का कहना है कि धारा 144 लगायी गयी है। चाकूबाजी और पथराव में घायल लोगों को पुलिस ने सीएचसी सिकन्दरपुर पहुंचाया। प्राथमिक इलाज के बाद गंभीर रूप से घायल तीन लोगों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

587
अचानक शुरू हुा बवाल को बैकफुट पर पुलिस
घटनाक्रम कुछ यू रहा कि रविवार की शाम कस्बे के जलपा चौक व रसिदिया मस्जिद के बीच से ताजिया जुलूस गुजर रहा था। कुल 14 ताजियों में सबसे पीछे डोमनपुरा की ताजिया चल रही थी। इसी बीच एक दिन पहले हुए विवाद को लेकर पत्थरबाजी की अफवाह किसी ने उड़ा दी। इससे अचानक माहौल बिगड़ गया। देखते ही देखते दो पक्ष आमने-सामने आ गये और ईंट-पत्थर चलने लगे। आसपास की चार दुकानों में धावा बोलकर लूटपाट की गई। दो बाइकों व दो साइकिलों को आग के हवाले कर दिया गया। आधा दर्जन लोगों पर धारदार हथियार से हमला कर घायल कर दिया गया। दोनों ओर से पथराव में दर्जनों लोग चोटिल हो गये। हालात बिगड़ते देख पुलिस व पीएसी के जवानों ने मोर्चा सम्भाल लिया। इसी बीच सिकन्दरपुर थाने पर तैनात एसआई धर्मेन्द्र कुमार की बाइक को भी चांदनी चौक के पास भीड़ ने क्षतिग्रस्त कर दिया। हालात बेकाबू होते देख पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे गए। इससे भीड़ तितर-बितर हो सकी। देर शाम तक माहौल अराजक बना रहा और पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी दोनों पक्षों को शांत कराने के प्रयास में जुटे रहे।
फोर्श की तैनाती के बाद भी सक्रिय रहे बलवाई
आरोप है कि मौके पर भारी पुलिस बल होने के बावजूद भी रुक रुक कर इलाके में आगजनी व लूटपाट की घटनाएं हो रही हैं। क्षेत्रीय विधायक समेत तमाम पुलिस अधिकारी घटनास्थल का चक्रमण कर रहे हैं। वर्ग विशेष ने उनके इलाके में पुलिस कार्यवाही न होने का आरोप लगाया है। दूसरी तरफ अब तक एक दर्जन बलवायी पुलिस की गिरफ़्त में आ चुके हैं। बावजूद इसके स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी है।

admin

No Comments

Leave a Comment