क्वारंटाइन सेंटर में दम तोड़ने वाले की रिपोर्ट निकली कोरोना पॉजिटिव तो मची खलबली, अफसरों की बोलती बंद

जौनपुर। वैश्विक माहामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की तैयारियों को लेकर आला अफसर हर समय तत्पर रहने का दावा करते हैं लेकिन शुक्रवार को मुंगराबादशाहपुर के क्वारण्टाइन सेन्टर में युवक की मौत के बाद आयी जांच रिपोर्ट ने होश फाख्ता कर दिये हैं। मृत युवक की जांच रिपोर्ट में कोरोना पॉजिटिव आने से जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया है। दरअसल मुंगराबादशाहपुर के प्रयागराज मार्ग पर स्थित सार्वजनिक इंटर कॉलेज में जिला प्रशासन द्वारा बनाए गए एवं नगर पालिका परिषद द्वारा संचालित में युवक रुका था। सूचना मिलते ही डीएम दिनेश पी सिंह, एसपी अशोक कुमार समेत स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल किया।

मुंबई से स्पेशल ट्रेन के जरिये आया था

गौरतलब है कि गुरुवार को शाम कवारन्टीन किया गया नाथूपुर (जफराबाद) निवासी प्रदीप कुमार (35) रोजी रोटी के सिलसिले में मुम्बई में रहता था। लॉक डॉउन के दौरान वह वही फस गया। मुम्बई से विशेष श्रमिक ट्रेन द्वारा वह बुद्धवार को मुम्बई से घर के लिए चला और गुरुवार को अपरान्ह प्रयागराज रेलवे स्टेशन पर उतर कर रोडवेज बस से घर के लिए चला। जिला प्रशासन द्वारा जनपद की सीमा पर मुंगराबादशाहपुर के सार्वजनिक इंटर कॉलेज में बनाए गए क्वारण्टाइन सेन्टर में सभी प्रवासी लोगो को चिकित्सीय जांच के लिए रोका गया। भीड़ अधिक होने से देर रात तक भी जांच पूरी नही हो पाने के कारण सभी को वही रोक दिया गया। शुक्रवार की सुबह प्रदीप की तेज बुखार और खांसी के चलते हालत बिगड़ गयी। थोड़ी देर बाद उसने दम तोड़ दिया। शनिवार को उसकी जांच रिपोर्ट आयी तो वह कोरोना संक्रमित पाया गया है।

Related posts