कोरोना को लेकर धर्म विशेष में फैलायी ऐसी अफवाह की पुलिस-प्रशासन हलकान, दो की गिरफ्तारी पर मिली राहत

भदोही। पिछले तीन दिनों से कोरोना वायरल से अधिक नई दिल्ली में आयोजित तबलीगी जमात के कार्यक्रम से इसके फैलने की खबरें सुर्खियों में हैं। शामिल लोगों की जांच के लिए उनकी तलाश करने वाली फोर्स से भिडंत और इलाज करने वाले चिकित्सकर्मियों से दुर्व्यवहार के मामले भी सामने आ रहे हैं। इस खातिर अफवाहों का सहारा लिया जा रहा है जिसमें वर्ग विशेष को निशाने पर लेने से लेकर तमाम फर्जी बातें कही जा रही है। कुछ ऐसा ही शुक्रवार की नमाज के पहले से होने लगा था। सोशल नेटवर्किंग साइट व्हाट्सएप के जरिये इसका जोरों से प्रसार करने की खबर मिलने पर पुलिस के होश उड़ गये। फौरन ही एसपी राम बदन सिंह ने क्राइम ब्रांच प्रभारी अजय सिंह को इसमें शामिल लोगों की धर पकड़ के निर्देश दिये।

आईपीसी के संग आईटी एक्ट में रपट

एसपी ने संबंधित मोबाइल नंबरों को देते हुए इस मामले विधिक कार्यवाही करने व तत्काल गिरफ्तारी के लिये आदेशित किया था। जांच के क्रम में क्राइम ब्रांच की टीम ने कोतवाली भदोही से सम्पर्क कर अफवाह फैलाने के संबंध में आईपीसी की धारा 268 व 270 के आलावा 66 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया। क्राइम ब्रांच व कोतवाली की टीमो ने त्वरित कार्यवाही करते हुए अफवाह फैलाने वाले दोनों अभियुक्तों को प्रयुक्त मोबाइलों के संग बाजार सलावत खां से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारअकमल अंसारी और अब्दुल मोतल्लीब इसी स्थान के रहने वाले है। उनके पास से अफवाह फैलने में प्रयुक्त मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं।

Related posts