सुप्रीम कोर्ट से पायी राहत तो फिर से की हिमाकत, इस बार थल सेनाध्यक्ष रावत की तुलना की जनरल डायर से

वाराणसी। जम्मू-कश्‍मीर से 370 और 35 ए हटने को एक सप्ताह होने जा रहा है। समूचे देश में इसे लेकर जश्न का माहौल है। बावजूद इसके कुछ लोगों के गले यह नहीं उतर पा रहा है। सोशल मीडिया पर तंज कसने तक तो मामला तूल नही पकड़ रहा लेकिन व्यक्तिगत रूप से निशाना बनाने की परिपाटी भी शरू हो गयी है। खुद को चर्चा में लाने की खातिर जलियांवाला बाग में निहत्थों पर फायरिंग कराने वाले जनरल डायर की तुलना मौजूदा थल सेना‍ध्‍यक्ष मेजर जनरल विपिन रावत से करने वाले मीम को लेकर खासा बवाल मच गया है। दरअसल शनिवार को एक कथित पत्रकार ने ने सोशल मीडिया पर जनरल डायर और विपिन रावत की तस्‍वीरें शेयर की जिसमें एक को कश्‍मीर से जोड़ा है तो दूसरे को जलियांवाला बाग कांड से।

क्राइम ब्रांच को सौंपी गयी जांच

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में लोग सोशल मीडिया पर खासे सक्रिय रहते हैं और थल सेनाध्‍यक्ष को लेकर की गई अपमानजनक टिप्‍पणी से उनका खून खौल उठा। अधिवक्‍ता सौरभ तिवारी ने इसकी शिकायत एसएसपी आनंद कुलकर्णी से करते हुए संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की जिससे ऐसी हिमाकत करने का हौसला कोई दूसरा न उठा सके। प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी ने जांच क्राइम ब्रांच को सौंपने के साथ विधि कार्रवाई के निर्देश दिये हंै।

पहले भी हो चुकी है गिरफ्तारी

गौरतलब है कि मीम सोशल मीडिया पर वायरल करने वाले पत्रकार इससे पहले जून में सीएम योगी की तस्‍वीरों को छेडछाड कर सोशल मीडिया में आपत्तिजनक टिप्‍पणी करने के मामले में गिरफ्तार हो चुके हैं। पुलिस ने त्वरित कार्रावाई के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा था लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने रिहाई का आदेश मिलने के बाद वह एक बार फिर से खुद को चर्चा में लाने की खातिर ऐसी हरकतों में जुट गये हैं।

Related posts